Tuesday , July 17 2018

राज्यपाल ने सरकार गठन में देरी की तो शशिकला कर सकती हैं भूख-हड़ताल

चेन्नई: एनडीटीवी ने सुत्रों के हवाले से खबर दी है कि वी.के. शशिकला को अगर राज्यपाल ने सरकार गठन के लिए नहीं बुलाया तो वह अपने विधायकों के साथ भूख-हड़ताल कर सकती हैं। सुत्रों ने बताया है कि अगर राज्यपाल ने उन्हें नहीं बुलाया तो वह पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता के स्मारक पर जाकर भूख हड़ताल करेंगी।

बता दें कि शशिकला ने शनिवार को चेन्नई के अपने रिजोर्ट पर 127 विधायकों के साथ बैठक किया। बैठक के दौरान उन्होंने कहा  कि ज्यादा वक्त लेने का मतलब पार्टी में दरार पैदा करना है। अब कल हम अलग तरीके से विरोध प्रदर्शन करेंगे।

शनिवार को ही उनके पक्ष में खड़े सात विधायक पाला बदलकर पन्नीरसेल्वम के कैंप में चले गए। शिक्षामंत्री के. पंडियाराजन के अलावा तीन सांसद डॉ. मैत्रेयां, पीएस पंडियान, ई मधुसुधनन और सी पोन्नायन ने खेमा बदलकर पन्नीरसेल्वम का हाथ थाम लिया।

हालांकि पन्नीरसेल्वम के पास अभी फिलहाल 9 ही विधायक हैं। लेकिन शशिकला की टीम को डर है कि अगर देर हुआ तो 118 सदस्यों के बहुमत को साबित नहीं कर पाएंगी।

गौरतलब है कि पिछले रविवार को पन्नीरसेल्वम के इस्तीफा देने के बाद शशिकला ने मुख्यमंत्री पद पर दावा पेश किया था। लेकिन माना जा रहा है कि राज्यपाल सी. विद्यासागर राव शशिकला को सुप्रीम कोर्ट में उनके खिलाफ चल रहे भ्रष्टाचार पर फैसला आने के बाद ही न्यौता देंगे। यह आदेश इस हफ्ते आ सकता है।

 

TOPPOPULARRECENT