राज्यपाल सत्यपाल मलिक का बयान- आतंकी सुरक्षाबलों के बजाय भ्रष्ट नेताओं को निशाना बनाएं !

राज्यपाल सत्यपाल मलिक का बयान- आतंकी सुरक्षाबलों के बजाय भ्रष्ट नेताओं को निशाना बनाएं !

राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने रविवार को एक विवादित बयान दिया। उन्होंने कहा कि आतंकियों को पुलिसकर्मियों व एसपीओ समेत अन्य निर्दोषों की हत्या नहीं करनी चाहिए। बल्कि भ्रष्ट राजनेताओं व ब्यूरोक्रेट को मारना चाहिए, जिन्होंने वर्षों तक उनके राज्य को लूटा है। वे करगिल में करगिल लद्दाख पर्यटन महोत्सव में बोल रहे थे।

उन्होंने कहा कि जिन बच्चों ने हथियार उठाया है वे अपने ही लोगों को मार रहे हैं। वे पीएसओ व एसपीओ को मार रहे हैं। आखिर उन्हें क्यों मार रहे हो? हत्या उसकी करो जिसने कश्मीर को लूटा है। क्या तुमने इसमें से किसी को मारा है? बंदूक से कभी भी समस्या का समाधान नहीं हो सकता। श्रीलंका में लिट्टे जैसा संगठन भी खत्म हो गया।

उन्होंने कहा कि रियासत की सबसे बड़ी बीमारी भ्रष्टाचार है। अभी वह अमरनाथ यात्रा पर गए थे। वहां सैकड़ों टट्टू वालों के पास स्वेटर तक नहीं थे, लेकिन श्रीनगर में कई ऐसे नेता और अफसर हैं जिनके पास 15-20 कमरों के मकान हैं। करोड़ों रुपये के कालीन बिछे हुए हैं। वन विभाग तथा सिंचाई विभाग के कई सेवानिवृत्त अफसरों को वे जानते हैं जिनके महारानी बाग तथा बसंतकुंज जैसे पॉश इलाके में आलीशान बंगले हैं। यदि मेरे हाथ में होता तो इन पर मुकदमे चलाकर उनकी संपत्ति जब्त कर गरीबों में बांट देता। उन्होंने कहा कि श्रीनगर के डाउनटाउन की गरीबी बताने के लिए उनके मुंह पर ताले लगे हुए हैं। लेकिन यहां के लोग अय्याश हैं, जिन्होंने कश्मीर को जलाया है। भोले भाले युवाओं को पत्थर थमाया है। उन्हें गुमराह किया है।

Top Stories