Saturday , December 16 2017

राज्य सभा में डॉ भूलकर के क़त्ल की गूंज

माक़ूलीयत पसंद समाजी कारकुन नरेंद्र डॉ भूलकर के क़त्ल का वाक़िया राज्य सभा में भी मौज़ू गुफ़्तगु बन गया। पार्टी ख़ुतूत से बालातर होकर तमाम अरकान ने ऐवान में क़रारदाद पेश करने का मुतालिबा किया जबकि कांग्रेसी रुकन ने मुतालिबा किया कि

माक़ूलीयत पसंद समाजी कारकुन नरेंद्र डॉ भूलकर के क़त्ल का वाक़िया राज्य सभा में भी मौज़ू गुफ़्तगु बन गया। पार्टी ख़ुतूत से बालातर होकर तमाम अरकान ने ऐवान में क़रारदाद पेश करने का मुतालिबा किया जबकि कांग्रेसी रुकन ने मुतालिबा किया कि इंतेहापसंद दाएं बाज़ू की तंज़ीमों जैसे सनातन संस्था पर इमतिना आइद किया जाये। वक़फ़ा सिफ़र के दौरान ये मसला उठाते हुए कांग्रेसी रुकन हुसैन दिलवाई ने कहा कि सिर्फ़ डॉ भूलकर के क़ातिलों को सज़ा देना काफ़ी नहीं होगा।

ऐसे तमाम इदारों पर जैसे सनातन संस्था है, जो तशद्दुद को जायज़ क़रार देती हैं, इमतिना आइद करदेना चाहीए। सनातन संस्था कल ही डॉ भूलकर के क़त्ल में अपना हाथ होने की तरदीद करचुकी है। हुसैन दिलवाई ने कहा कि मुस्लमानों की भी बाअज़ तंज़ीमें हैं और हिन्दुओं में भी सनातन संस्था जैसी चंद तंज़ीमें हैं जिन पर इमतिना आइद करना ज़रूरी है क्योंकि वो तशद्दुद को जायज़ क़रार देती हैं। उन्होंने दलील पेश की कि हुकूमत नक्सलाइटस के ख़िलाफ़ कार्रवाई करती है क्योंकि वो तशद्दुद में मुलविस हैं लेकिन दाएं बाज़ू की इंतेहापसंद तंज़ीमों को तशद्दुद में मुलव्विस होने के बावजूद नजरअंदाज़ किया जाता है।

उन्होंने कहा कि डॉ भूलकर गुज़िश्ता 18 साल से तो हम परस्ती के ख़िलाफ़ जद्द-ओ-जहद कररहे थे और उनको ऐसी इंतेहापसंद तंज़ीमों से कई बार धमकीयां मिल चुकी थीं। उन्होंने कहा कि मर्कज़ को चाहीए कि हुकूमत महाराष्ट्र की जानिब से ऐसी तंज़ीमों पर इमतिना आइद करने की तजवीज़ की ताईद करे। कांग्रेस, जनतादल (यू), सी पी आई (ऐम), सी पी आई और एल जे पी ने भी इस मसले पर अपनी भरपूर ताईद का ऐलान किया।

राम विलास पासवान ने मुतालिबा किया कि ऐवान को इस सिलसिले में एक मज़म्मती क़रारदाद पेश करनी चाहीए। इस तजवीज़ की ऐवान के तमाम अरकान बिशमोल बी जे पी अरकान ने ताईद की। सी पी आई (ऐम) के क़ाइद सीताराम यचूरी ने दरख़ास्त की कि मज़म्मत की क़रारदाद पेश की जाये। नायाब सदर नशीन राज्य सभा पी जे कोरियन ने भी उसकी ताईद की।

TOPPOPULARRECENT