राफेल डील पर भूल हुई है तो PM मोदी माफी मांग लें- बीजेपी सांसद

राफेल डील पर भूल हुई है तो PM मोदी माफी मांग लें- बीजेपी सांसद

राफेल डील को लेकर प्रधानमंत्री मोदी के ऊपर अब उन्हीं की पार्टी के नेता भी हमलावर होने लगे हैं. भाजपा के बागी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने प्रधानमंत्री पर हमला बोला है. उन्‍होंने कहा कि पीएम मोदी को खुद विपक्ष के सवालों का जवाब देना चाहिए. इसके साथ ही उन्होंने पीएम को देश से माफी मांगने की सलाह भी दे डाली है.

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा, ‘सत्‍ता पक्ष के जो लोग इस मामले पर बोल रहे हैं, उन्हें क्या पता कि मौका ए वारदात पर क्या हुआ.  हम लोग अपने प्रधानमंत्री को देख रहे हैं. जो बोल रहे हैं, उनके साथ मजबूरी है. आज हम मंत्रिमंडल में रहते तो हम भी सरकार की महिमा गान करते.”

मामला सच्चाई और पारदर्शिता का

पटना में शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि यह मामला सच्चाई और पारदर्शिता का है. मामला देश की अस्मिता और डिफेंस सुरक्षा से जुड़ा हुआ है. हमारी जय हिंद की सेना देख रही है कि ऐसा क्यों हुआ. इतना बड़ा बवंडर क्यों हुआ. इसके पीछे तर्क क्या हैं. उन्होंने आगे कहा कि पीएम मोदी इसका सबके सामने खुलासा करें. मेरी अपील है कि अगर कहीं भूल हुई है तो पीएम माफी मांग लें. सॉरी बोलने से हम छोटे नहीं हो जाएंगे. हम अगर सॉरी बोल देते हैं तो इससे और हम बड़े हो जाएंगे.

सरकार को सुझाव देते हुए शत्रुघ्‍न सिन्हा ने कहा कि पारदर्शिता के साथ इस मामले में हम लोगों को सामने आना चाहिए. इस मामले को लेकर देश में चारों तरफ बदनामी हो रही है. सब लोगों के दिमाग में सवालिया निशान बैठ गए हैं कि आखिर ऐसा क्या हो गया और कैसे हो गया. जैसे लग रहा है कि हम लोगों को किसी की नजर लग गई है. चार साल तक तो हमने कहा कि हम लोग ईमानदारी के साथ सरकार चला रहे हैं. हमारे ऊपर कोई इल्जाम नहीं, कोई आरोप नहीं. अचानक इतना बड़ा धमाल.

कुछ दिनों के लिए सच दब जाएगा लेकिन हटेगा नहीं
शत्रुघ्‍न सिन्‍हा ने कहा, ”पीएम बताएं कि क्या वजह है HAL के साथ डील होने के बावजूद उसके बजाय दूसरी कंपनी को कॉन्ट्रैक्ट दिया गया. वह भी ऐसी कंपनी को जिसको डील होने से पहले रजिस्ट्रेशन कराए सिर्फ 10 या 15 दिन ही हुए थे. उनके पास संपत्ति के नाम पर 10 या 12 लाख थे. कैसे उन्हें डिफेंस का हवाई जहाज बनाने का मौका दिया गया. चारों तरफ हम लोगों से सवाल किए जाते हैं. ” उन्होंने कहा कि इस बात से सब चिंतित ही नहीं हैं बल्कि नई-नई बातें निकाल रहे हैं. अगर सच को दबाने की कोशिश करेंगे तो कुछ दिनों के लिए दब तो जाएगा लेकिन हटेगा नहीं.<

Top Stories