राबर्ट वडेरा तनाज़ा पर हंगामा ,पारलीमानी कार्रवाई मफ़लूज

राबर्ट वडेरा तनाज़ा पर हंगामा ,पारलीमानी कार्रवाई मफ़लूज
नई दिल्ली, 13 मार्च: ( पी टी आई ) अराज़ी के बाअज़ मुआमलतों में कांग्रेस की सदर सोनीया गांधी के दामाद राबर्ट वडेरा मुबय्यना तौर पर मुलव्वस होने के मसला पर पार्लीमेंट के दोनों ऐवानों में आज ज़बरदस्त हंगामा हुआ जिसके सबब लोक सभा और राज्य सभ

नई दिल्ली, 13 मार्च: ( पी टी आई ) अराज़ी के बाअज़ मुआमलतों में कांग्रेस की सदर सोनीया गांधी के दामाद राबर्ट वडेरा मुबय्यना तौर पर मुलव्वस होने के मसला पर पार्लीमेंट के दोनों ऐवानों में आज ज़बरदस्त हंगामा हुआ जिसके सबब लोक सभा और राज्य सभा में सारी कार्रवाई अमलन मफ़लूज रही ।

दोपहर 2 बजे तक दोनों ऐवानों की कार्रवाई दो मर्तबा मुल्तवी की गई जब बी जे पी के अरकान इस मसला पर तहक़ीक़ात का मुतालिबा करते हुए अपनी नशिस्तों से उठ कर कुर्सी-ए-सदारत के रूबरू जमा हो गए । इलावा अज़ीं श्रीलंका में नसली तमिलों के दुशवारकुन हालात और हिंदूस्तानी माहीगीरों की हलाकत के इल्ज़ाम के तहत गिरफ़्तार शूदा इटली के दो मैरीन्स की अदम वापसी दीगर मसाइल थे जिन्हें मौज़ू बनाया गया लेकिन राबर्ट वडेरा के मसला की दोनों ऐवानों में ज़बरदस्त गूंज रही ।

लोक सभा में उस वक़्त सोनीया गांधी भी मौजूद थीं जब बी जे पी अरकान प्ले कार्ड्स थामे हुए ऐवान के वस्त में जमा हो गए । प्ले कार्ड्स पर कई नारे दर्ज थे एक पर ये इबारत दर्ज थी कि वज़ीर फायनेंस , दामाद का फार्मूला अपनाए , घर बैठे कमाईए और ख़सारा कम कीजिए ।

क़ब्लअज़ीं बी जे पी ने राजस्थान में वडेरा की अराज़ी मुआमलतों में मुबय्यना बे क़ाईदगियों पर दोनों ऐवानों में बहस के लिए वक्फ़ा-ए-सवालात मुल्तवी करने की नोटिस दी थी । बाअज़ इत्तेलाआत में ये इल्ज़ाम आइद किया गया था कि वडेरा ने क़ानूनशिकनी के ज़रीया राजस्थान में मुक़र्ररा हद से कहीं ज़्यादा आराज़ीयात ख़रीदा है और बिलख़ुसूस बीकानेर की क़ीमत आराज़ीयात से मालामाल होने की तैयारी कर रहे हैं ।

इस पस-ए-मंज़र में बी जे पी ने वक्फ़ा-ए-सवालात मुल्तवी करते हुए इस मसला पर बहस के लिए नोटिस दी थी । कांग्रेस की हलीफ़ डी एम के के इलावा ऑल इंडिया अनाडीएम के के अरकान ने श्रीलंका में नसली तमिलों की हालत-ए-ज़ार पर ज़बरदस्त हंगामा आराई की वो अपने हाथों में पले कार्ड्स थामे हुए थे जिन पर एलटी टी ई के मक़्तूल सरबराह वे प्रभाकरण के मक़्तूल 12 साला बेटे बाला चंद्रन की तसावीर थीं ।

सी पी आई (एम ) के अरकान ने केराला के समुंद्री इलाक़ा में दो माहीगीरों की हलाकत के मुल्ज़िम इटली के दो मैरीन्स की मुक़द्दमा का सामना करने के वायदे के बावजूद हिंदूस्तान वापसी से इनकार का मसला उठाया । उन मसाइल पर अरकान के ज़बरदस्त शोर-ओ-गुल के दरमियान दोनों ऐवानों की कार्रवाई दोपहर 2 बजे तक मुल्तवी कर दी गई और 2 बजे जैसे ही इजलास शुरू हुए अरकान ने नारेबाज़ी का दुबारा आग़ाज़ कर दिया और पारलीमानी कार्रवाई अमलन मुल्तवी हो गई जिस के सबब दोनों ऐवानों के इजलास दिन भर के लिए मुल्तवी करने का ऐलान किया गया ।

स्पीकर ने एहतिजाजी अरकान को समझाने की कोशिश की और उन्हें बंसल को बयान देने में तआवुन के लिए तरग़ीब दी गई जिस का उन पर कोई असर नहीं हुआ बिलआख़िर स्पीकर को इजलास मुल्तवी करना पड़ा । राज्य सभा में भी ऐसी ही सूरत-ए-हाल रही । हुकूमत पर दबाओ बढ़ाने की कोशिश करते हुए बी जे पी ने ऐवान पार्लीमेंट में इटली के हिंदूस्तानी माहीगीरों के दो क़ातिल मैरीन्स सिपाहीयों को हिंदूस्तान वापस करने से इनकार पर एक तवज्जा देहानी नोटिस आज पेश करने का ऐलान किया ।

पार्टी ज़राए ने कहा कि नजमा हेब्तुल्ला ने सदर नशीन को राज्य सभा में इस मसले पर तवज्जा देहानी नोटिस देने की इत्तेला कर दी है । इसी तरह की एक दरख़ास्त तवज्जा देहानी नोटिस पेश करने के लिए बी जे पी के क़ाइद अपोज़ीशन लोक सभा सुषमा स्वराज ने भी पेश की है ।

Top Stories