रामगोपाल ने मुलायम को लिखा ख़त: अखिलेश को चेहरा बनाइये वरना 100 सीटें भी नहीं आएँगी

रामगोपाल ने मुलायम को लिखा ख़त: अखिलेश को चेहरा बनाइये वरना 100 सीटें भी नहीं आएँगी
Click for full image
राम गोपाल यादव, समाजवादी पार्टी नेता (फ़ाइल)

लखनऊ: समाजवादी पार्टी में अन्दर अन्दर चल रही कलह से पार्टी को विधानसभा चुनावों में जो नुक़सान हो सकता है उससे पार्टी के बड़े नेता बहुत परेशान हैं और इस का ज़िक्र मुलायम सिंह यादव के चचेरे भाई और क़द्दावर समाजवादी नेता रामगोपाल यादव भी कर रहे हैं. उन्होंने मुलायम से कहा कि अखिलेश यादव को पार्टी का मुख्यमंत्री उमीदवार घोषित किया जाए वरना चुनाव जीतना मुश्किल हो जाएगा.

उन्होंने पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह को ख़त लिख कर अपनी बात रखी और कहा कि चंद लोगों की राय मानने से बेहतर है कि ज़्यादातर लोगों की राय सुनी जाए.

ख़त में उन्होंने कहा कि पार्टी जिसे चाहे उसे टिकेट दे सकती है लेकिन जीतेगा तो वही जिसकी हैसियत होगी.

ख़त कुछ इस तरह से है..

“आदरणीय नेताजी सादर चरण स्पर्श

समाजवादी पार्टी को आपने बड़ी मेहनत से बनाया था. पार्टी चार बार सत्ता में भी पहुंची. पिछली बार किसी अन्य दल के समर्थन की आवश्यकता भी नहीं पड़ी. उत्तर प्रदेश की वर्तमान सरकार ने जो कार्य किए हैं वो पूरे देश के लिए पथ प्रदर्शक का कार्य कर रहे हैं. मुख्यमंत्री जी इस समय निर्विवाद रूप से प्रदेश के सबसे बड़े लोकप्रिय नेता हैं लेकिन पिछले कुछ दिनों में जो कुछ हुआ उससे पार्टी का मतदाता निराश और हताश है. और अब तो उसमें नेतृत्व के प्रति आक्रोश भी उत्पन्न हो रहा है.

लोगों को कष्ट ये है कि पहले नंबर पर चल रही पार्टी कुछ इन गिने चुने लोगों की गलत सलाह के चलते काफी पीछे चली गई है. ये जो आजकल आपको सलाह दे रहे हैं, जनता की निगाह में उनकी हैसियत शून्य हो गई है.

पार्टी जिसे चाहे उसे टिकट दे, लेकिन जीतेगा वही जिसकी हैसियत होगी. और पार्टी तभी चुनाव जीतेगी जब पार्टी का चेहरा अखिलेश यादव होंगे. अगर आप चाहते हैं कि पार्टी फिर 100 से नीचे चली जाए तो आप चाहें जो फैसला लें, लेकिन एक बात याद रखें कि जो जनता आपकी पूजा करती है, समाजवादी पार्टी बनाने के लिए, वही जनता पार्टी के पतन के लिए आपको
और केवल आपको दोषी ठहराएगी. इतिहास बहुत निष्ठुर होता है, ये किसी को बख्शता नहीं.”

Top Stories