Tuesday , July 17 2018

रामजस कॉलेज में ABVP की गुंडागर्दी के ख़िलाफ़ जामिया के छात्रों ने किया प्रदर्शन

जामिया में रामजस कॉलेज के मुद्दे को लेकर एबीवीपी के खिलाफ छात्रों ने किया प्रदर्शन।

आज जामिया मिल्लिया इस्लामिया में छात्रों ने एबीवीपी के विरोध में जम कर हंगामा किया। रामजस कॉलेज में एबीवीपी के लगातार हिंसक व्यवहार द्वारा वहा के छात्रों की मार पिटाई करने को लेकर आज जामिया के छात्रों ने यूनिवर्सिटी परिसर में शक्ति प्रदर्शन किया।

इस दौरान छात्र नेता अंबर फ़ातमी ने आंदोलनकारी छात्रों को सम्बोधित करते हुए रामजस कॉलेज की घटना में एबीवीपी द्वारा की गयी बर्बरता, गुंडागर्दी और मनमानी के विरुद्ध ज़ोरदार अंदाज़ अपनाते हुए कहा कि एबीवीपी पूरे देश में इंक़लाब और क्रांति का नारा लगाने वालों को देखना नहीं चाहती है।

इस शक्तिशाली प्रदर्शन में जामिया के अध्यापक का भी साथ मिला। डिपॉर्मेन्ट ऑफ़ हिस्ट्री के अध्यक्ष प्रोफ़ेसर रिज़वान कैसर ने छात्रों की हौसलाअफजाई करते हुए कहा की अब जो बोल सकता है उसपर हमला शुरू हो चूका है ।

पहले इनका निशाना केवल जेएनयू था, मगर अब यह लोग पूरी तरह से सामने आ चुके हैं। चाहे जोधपुर यूनिवर्सिटी में नवेदिता मेनन को बुलाने पर विवाद हो या फिर रामजस कॉलेज में जेएनयू छात्रों को बुलाने पर एबीवीपी द्वारा छात्रों के साथ की गयी हिंसा,यह दोनों घटना स्वभाव में एक जैसे हैं।

प्रदर्शन में रामजस कॉलेज में हुई घटना की चश्मदीद गवाह वही की इतिहास विभाग की एक छात्रा ने जामिया के छात्रों को संबोधित करते हुए कहा है कि कैंपस में एक्टिविस्ट छात्रों को धमकियां दी जा रही हैं , लड़कियों को रेप और मार डालने की धमकियां दी गयी हैं । छात्रो के साथ उनकी पहचान पूछ कर मार पीट की जा रही है । कैंपस में आज़ादी को ख़त्म करने की कोशिश है

आपको बता दें की रामजस कॉलेज में पिछले दो दिनों से एबीवीपी ने कई मुद्दों पर हिंसक व्यवहार कर गुंडागर्दी करने की कोशिश की। पत्रकारों, छात्रों और यहा तक के कॉलेज के अध्यापकों की भी एबीवीपी सदस्यों द्वारा बर्बरता से पीटाई की गयी थी

TOPPOPULARRECENT