Saturday , November 18 2017
Home / Delhi News / रामजस कॉलेज विवाद : शहीद की बेटी बोली, देश के लिए गोली खाने को हूं तैयार

रामजस कॉलेज विवाद : शहीद की बेटी बोली, देश के लिए गोली खाने को हूं तैयार

दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज में हुए विवाद के बाद अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) का विरोध करने वाली कारगिल युद्ध में शहीद कैप्टन मनदीप सिंह की बेटी और लेडी श्री राम कालेज की छात्रा गुरमेहर कौर ने कहा कि वह देश के लिए गोली खाने के लिए तैयार हैं। एबीवीपी के खिलाफ सोशल मीडिया कैंपेन चलाने वालीं कौर ने कहा कि पिता (कैप्टन मनदीप सिंह) की तरह उन्हें भी देश के लिए गोली खाने में संकोच नहीं होगा। गुरमेहर ने कहा कि उनकी लड़ाई ऐसे संगठनों के खिलाफ है जो कि देश के कानून को चुनौती देते हैं और संविधान के तहत दिए गए मूल अधिकार अभिव्यक्ति की आजादी को छीनने की कोशिश करते हैं।

 
गुरमेहर ने कहा कि मैं न हीं डरूंगी और न ही झुकूंगी। मेरे पिता ने देश के लिए गोली खाई थी और मैं देश के लिए गोली खाने के लिए तैयार हूं। मेरे पास इतना साहस है कि मैं देश के लिए गोली खा सकूं। मै चाहती हूं कि इस हिंसा के खिलाफ सभी स्टूडेंट्स अपनी आवाज बुलंद करें और इस तरह की चीजों को बर्दाश्त न करें। गुरमेहर के एबीवीपी के खिलाफ किए गए पोस्ट के वायरल होने के बाद उन्होंने कहा था कि उन्हें धमकियां मिल रही हैं।

 

सोशल मीडिया पर मिल रही धमकियों पर कौर ने कहा कि वह इससे डरने वाली नहीं है, क्योंकि मुझे पता है कि मैं अपने अधिकारों के लिए खड़ी हूं। अपने अभियान का कारण बताते हुए कौर ने कहा कि बाकी दिनों की तरह ही वह दिन भी सामान्य ही था। लेकिन जब मुझे पता चला कि रामजस कालेज में विरोध के दौरान मेरी कुछ महिला साथियों पर हमला किया गया। महिलाओं को रेप की धमकियां दी गई।

 

एबीवीपी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि मेरे हिसाब से कानून को हाथ में लेने वालों के खिलाफ कार्रवाई का यह सही समय है। गुरमेहर ने यह भी कहा कि मुझे एंटी-नेशनल कहा जा रहा है। हालांकि मुझे अपनी राष्ट्रीयता साबित करने की जरुरत महसूस नहीं होती। जिन्होंने यह सब किया क्या वे राष्ट्रवादी थे? नहीं, जो लोग देश में रहने वाले लोगों को धमकाते हैं और राष्ट्रवादी नहीं होते हैं।

TOPPOPULARRECENT