Monday , December 11 2017

राम देव की गिरफ़्तारी के लिए मर्कज़ से मुतालिबा

हैदराबाद 06 अप्रैल:तेलंगाना क़ानूनसाज़ कौंसिल में अप्पोज़ीशन लीडर मुहम्मद अली शब्बीर ने भारत माता की जय का नारा लगाने से इनकार करने वालों का सर क़लम करने से मुताल्लिक़ योगा गुरु राम देव की धमकी की सख़्त तरीन अलफ़ाज़ में मुज़म्मत करते हुए हुकूमत से उन (राम देव) को फ़ील-फ़ौर गिरफ़्तार करने का मुतालिबा किया।

मुहम्मद अली शब्बीर ने अपने एक सहाफ़ती बयान में कहा कि राम देव का बयान मुल्क में तशद्दुद और फ़िर्कावाराना जज़बात को उकसाने के ख़तरनाक अज़ाइम पर मबनी है। शब्बीर ने कहा कि राम देव के पास मुल्क के क़ानून और दस्तूर का ज़िरह बराबर भी एहतेराम होता तो वो इस किस्म का बयान ना देते।

काबिले एतेराज़ बात तो ये है कि राम देव ने सद भावना सम्मेलन (अमन कान्फ़्रैंस) में ये इश्तिआल अंगेज़ी की है। हरियाणा के रोहतग में आरएसएस ने इस कांफ्रेंस का एहतेमाम किया था। शब्बीर अली ने आरएस एस के सरबराह मोहन भागवत और मजलिस के सदर असद ओवैसी की मुज़म्मत करते हुए कहा कि ये दोनों भारत माता की जय के नारे पर तनाज़ा पैदा कर रहे हैं। कांग्रेस लीडर ने कहा कि हिन्दुस्तानी दस्तूर के तहत कोई भी नारा लगाना लाज़िमी नहीं है। सुप्रीमकोर्ट भी 1986 में इस ज़िमन में वाज़िह रोलिंग दे चुका है।

TOPPOPULARRECENT