Wednesday , December 13 2017

राम मंदिर और दफ़ा 370 बी जे पी का अहम एजंडा

नई दिल्ली: मर्कज़ी वज़ीर-ए-क़ानून डी वी सदा निंदा गौड़ ने कहा है कि अयोध्या में राम मंदिर कश्मीर के ख़ुसूसी मौक़िफ़ से मुताल्लिक़ दस्तूर की दफ़ा 370 की मंसूख़ी बदस्तूर बी जे पी के एजंडा रहेंगे लेकिन वसीअ मुशावरत के बाद ही उन मसाइल पर कोई फ़ै

नई दिल्ली: मर्कज़ी वज़ीर-ए-क़ानून डी वी सदा निंदा गौड़ ने कहा है कि अयोध्या में राम मंदिर कश्मीर के ख़ुसूसी मौक़िफ़ से मुताल्लिक़ दस्तूर की दफ़ा 370 की मंसूख़ी बदस्तूर बी जे पी के एजंडा रहेंगे लेकिन वसीअ मुशावरत के बाद ही उन मसाइल पर कोई फ़ैसला किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि मोदी हुकूमत की मौजूदा तर्जीह बेहतर हुक्मरानी है जिस को साबिक़ यू पी ए हुकूमत ने गुज़िशता 10 साल की हुक्मरानी के दौरान नज़रअंदाज कर दिया था। सदानंद गौड़ ए ने कहा कि राज्य सभा के ऐवान में पहले ही में बयान दे चुका हूँ। चुनांचे ये बी जे पी के एजंडे पर है क्योंकि इंतेख़ाबी मंशूर में हम ने कहा है कि दफ़ा 370 में तरमीम की ज़रूरत है।

सदा नंद गौड़ ए ने पी टी आई को इंटरव्यू देते हुए कहा कि इस ज़िमन में हम एक क़दम आगे गए हैं। मैं यही बात आप से कह रहा हूँ कि इस मसले पर मुख़्तलिफ़ सियासी जमातों से बातचीत करना होगा और बाज़ ऐसे इलाक़े हैं जहां इस से फ़ायदा होगा उन पर भी तवज्जे दी जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि इस मसले के कई फ़रीक़ हैं मुशावरत करना होगा। जिस के बाद ही इस पर पेशरफ़त की जा सकती है। हम कोई नाक़िस फ़ैसला नहीं करसकते या फिर मुख़्तलिफ़ सियासी जमातों से मुशावरत के बगै़र जल्दबाज़ी में भी कोई फ़ैसला नहीं कर सके ।चुनांचे हमें एहतेयात-ओ-आहिस्तगी के साथ आगे बढ़ने की ज़रूरत है जिस का मतलब ये हुआ कि हम ने इस एजंडा को तर्क नहीं किया है

TOPPOPULARRECENT