Saturday , June 23 2018

राम मंदिर की तामीर पर तकरीर करने की सजा..

बिजनौर: राम मंदिर की तामीर को लेकर तकरीर देने पर उत्तर प्रदेश में दर्ज़ा हासिल रियासती वज़ीर आेमपाल नेहरा पर गाज गिर गयी है.

तकरीबन डेढ़ महीने पहले Entertainment tax department के सलाहकार बनाए गये व दर्जा हासिल रियासती वज़ीर ओमपाल नेहरा को उनके ओहदा से हटा दिया गया है. सपा चीफ मुलायम सिंह यादव के करीबी आेमपाल नेहरा ने कहा था कि राम मंदिर की तामीर के लिए मुसलमानों को कारसेवा करनी चाहिए. इससे विश्व हिंदू परिषद खुद ही खत्म हो जाएगी.

वहीं, वज़ीर का दर्जा वापस लेने पर ओमपाल नेहरा ने कहा कि भाजपा के पास रियासत में यही एक मुद्दा है. इसलिए मैंने सेक्युलर कियादत (Secular leadership) और मुस्लिम दानिश्वरों से इस मसले का मिलकर हल ढूंढने की बात कही थी.

गौर हो कि तीन नवंबर को इंतेज़ामिया ने बिजनौर के गंज में रहने वाले किसान लीडर ओमपाल नेहरा को Entertainment tax department का सलाहकार बनाकर मगरिबी उत्तर प्रदेश के जाटों को खुश करने और लुभाने की कोशिश की थी.

ओमपाल नेहरा को मुलायम सिंह यादव का पुराना साथी बताया जा जाता है. ओमपाल नेहरा ने अयोध्या में राम जन्मभूमि व मथुरा में कृष्ण जन्म भूमि पर आलीशान मंदिर बनाने की बात कहकर सबको हैरत में डाल दिया था. सपा हाईकमान ने जुमेरात के रोज़ ओमपाल नेहरा को बर्खास्त करते हुए उन्हें Entertainment tax department के सलाहकार के ओहदा से बरखास्त किये जाने का फैसला सुनाया है.

TOPPOPULARRECENT