राम मंदिर के निर्माण का विरोध करने की कोशिश किया तो गिरा देंगे सरकार- सुब्रमण्यम स्वामी

राम मंदिर के निर्माण का विरोध करने की कोशिश किया तो गिरा देंगे सरकार- सुब्रमण्यम स्वामी

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर सियासी पारा चढ़ता जा रहा है। इस मामले को लेकर मोदी सरकार अपनों के ही निशाने पर आ गई है। बीजेपी के राज्यसभा सांसद डॉक्टर सुब्रमण्यम स्वामी ने एक बार फिर राम मंदिर का राग छेड़ते हुए अपनी ही पार्टी को चेतावनी दी है।

उन्होंने कहा कि केंद्र या उत्तर प्रदेश सरकार अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का विरोध करने की कोशिश करती हैं तो वह सरकार को गिरा देंगे।

स्वामी ने जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि अगर हमारा मामला जनवरी में सूचीबद्ध होता है तो हम इसे दो सप्ताह में जीत लेंगे। उन्होंने कहा कि मेरे दो विपक्षी पार्टी केंद्र सरकार और यूपी सरकार है।

क्या उनके पास मेरे खिलाफ विरोध करने की हिम्मत है? अगर वो ऐसा करते हैं मैं सरकार को गिरा दूंगा। मेरा मानना है कि वो ऐसा कभी नहीं करेंगे।

भाजपा नेता ने दावा किया कि मुसलमानों को अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण में कोई आपत्ति नहीं है। उन्होंने कहा कि सुन्नी वक्फ बोर्ड ने दावा किया कि मुगल शासक बाबर द्वारा कब्जा की गई भूमि हमारी है। उन लोगों ने कभी यह नहीं कहा कि वे बाबरी को फिर से बनाना चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि यह हमारी जमीन है। स्वामी ने कहा कि रामजन्म भूमि के लिए 77 बार दंगे हुए लेकिन आस्था आज भी कायम है। अयोध्या में भगवान राम का मंदिर बनेगा।

Top Stories