राम मंदिर पर कानून बनाने की बात करने वाली बीजेपी सरकार पिछले चार साल से सो रही थी क्या?- कपिल सिब्बल

राम मंदिर पर कानून बनाने की बात करने वाली बीजेपी सरकार पिछले चार साल से सो रही थी क्या?- कपिल सिब्बल
Click for full image

अयोध्‍या मामले पर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में टली सुनवाई के बाद नेताओं और अन्‍य लोगों की बयानबाजी शुरू हो गई है। मंगलवार को कांग्रेस नेता कपिल सिब्‍बल ने भी इस मामले पर बयान देते हुए बीजेपी को घेरा। उन्‍होंने कहा ‘अयोध्‍या मामले की सुनवाई किस तारीख को होनी है, यह कोर्ट तय करेगा। यह बीजेपी या कांग्रेस नहीं तय करेंगे।

उन्‍होंने कहा कि अगर सरकार अयोध्‍या राम मंदिर पर कानून लाना चाहती है तो वो कानून बनाए। कांग्रेस उसे नहीं रोक रही है। कपिल सिब्‍बल ने बीजेपी की मोदी सरकार आरोप लगाते हुए कहा कि इस मुद्दे को आगामी चुनाव के कारण उठाया गया है। उन्‍होंने सवाल किया कि क्‍या सरकार पिछले चार साल से सो रही थी क्‍या?

बता दें कि अयोध्या विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को अहम सुनवाई टल गई है। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस संजय किशन कौल और जस्टिस के एम जोसफ की बेंच ने इस मामले को अगले साल जनवरी के लिए टाल दिया है। सुप्रीम कोर्ट अब जनवरी में मामले की सुनवाई की अगली तारीख तय करेगा।

उस दिन यह भी तय होगा कि सीजेआई रंजन गोगोई की अध्‍यक्षता वाली तीन जजों की बेंच ही मामले की सुनवाई करेगी या इसके लिए कोई नई बेंच का गठन किया जाएगा।

Top Stories