Monday , June 25 2018

राम मंदिर मुद्दे को जिंदा रखना चाहती है भाजपा : नीतीश

पटना : वजीरे आला नीतीश कुमार ने कहा कि आरएसएस और भाजपा के लोग राम मंदिर तामीर का सियासत करते रहे हैं और हमेशा इस मुद्दे को जिंदा रखना चाहते हैं। अब यूपी का इंतिख़ाब आने वाला है, इसलिए इस मुद्दे को फिर से जिंदा रखने की कोशिश शुरू कर दी है। वजीरे आला इतवार को डॉ. भीमराव अंबेदकर की तकरीब के बाद सहाफ़ियों से बातचीत कर रहे थे।

वजीरे आला ने कहा कि भाजपा और आरएसएस की राम में कोई यकीन नहीं हैै। वे राम को एक सियासी टूल्स की तरह इस्तेमाल करना चाहते हैं। यह लोगों को कुबूल नहीं होगा। राम के फी यकीन सिर्फ भाजपा मेंबरों का नहीं है, सभी की यकीन है। लोगों की राम के फी जो इज्ज़त है, उसको उभारकर इसका सियासी फाइदा भाजपा और आरएसएस लेना चाहते हैं। इसलिए वक़्त वक़्त पर ये इस मसले को उभारते है। उन्होंने कहा कि अच्छा है कि सब लोग राम के मंदिर तामीर की तारीख पूछ रहे है, भाजपा तारीख बता दे।

वजीरे आला ने कहा कि मंदिर की तामीर और जो मुकाम है, वह तय है। मंदिर की तामीर या तो कोर्ट के फैसले से होगा या आपसी रजामंदी से। इस बात को जानते हुए भी इस मुद्दे को बार-बार छेड़ते हैं। भाजपा, आरएसएस और इनसे जुडे़ तमाम तंजीम अब मंदिर तामीर को लेकर एक्सपोज्ड हो चुके हैं।

TOPPOPULARRECENT