Thursday , December 14 2017

राशन दुकान में लोगों का हंगामा

अनाज और केरोसिन सस्ते तरीके से लोगों को मिल पाये। इसके लिए सरकारी मंसूबा के तहत पीडीएस की दुकान से तक़सीम की निज़ाम की गयी है, लेकिन सारफीन को इसका फाइदा नहीं मिल पाता है।

अनाज और केरोसिन सस्ते तरीके से लोगों को मिल पाये। इसके लिए सरकारी मंसूबा के तहत पीडीएस की दुकान से तक़सीम की निज़ाम की गयी है, लेकिन सारफीन को इसका फाइदा नहीं मिल पाता है।

इतवार की सुबह अनाज और केरोसिन को बांटेने वाले नहीं होने से गुस्साये लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। हंगामा इस कदर बढ़ा कि बाद में मौके पर पुलिस और मजिस्ट्रेट पहुंचे और लोगों के इल्ज़ाम की तहक़ीक़ात की।

वार्ड नंबर 63 के रानीपुर रसुलपुर मुहल्ला वाक़ेय श्याम सुंदर यादव की राशन की दुकान पर सुबह से ही लोगों की भीड़ जुटी थी। दुकानदार लोगों को बगैर राशन दिये भगा रहा था।

इसी बात से नाराज लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया। रामदेई देवी, गौतम कुमार, भोला प्रसाद, ललन कुमार और शिवनाथ प्रसाद समेत दीगर लोगों ने बताया कि सप्ताह में दो दिन ही दुकान खुलती है। बीते पांच माह से चावल की तक़सीम दुकानदार की तरफ से नहीं किया गया।

ऐसे में बाजार से महंगे शरह पर खरीदारी करनी पड़ रही है। हंगामा और माहौल बिगड़ता देख इंचार्ज एसडीओ कपिलेश्वर मिश्र को मुक़ामी लोगों ने इसकी इत्तिला दी। इत्तिला के बाद एसडीओ की हिदायत पर पुलिस फोर्स के साथ मजिस्ट्रेट शैलेंद्र कुमार सिंह पहुंचे।

मजिस्ट्रेट ने हंगामा कर रहे लोगों को पुरसुकून कराया और लोगों से दुकानदार की शिकायत सुनी। मजिस्ट्रेट ने बताया कि इस मामले में दुकानदार श्याम सुंदर यादव से रजिस्टर दिखाने को कहा, तो वह रजिस्टर नहीं दिखा पाया। इसके साथ ही इत्तिला बोर्ड पर स्टॉक और कीमत लिस्ट जून के बाद से नहीं लिखी गयी थी। कुछ ऐसी ही गड़बड़ी मिलने के बाद मजिस्ट्रेट ने अपनी रिपोर्ट एसडीओ को सौंप दी है।

TOPPOPULARRECENT