राशन शॉप्स को ऑटोमेटिक बनाने की योजना:सी वी आनंद

राशन शॉप्स को ऑटोमेटिक बनाने की योजना:सी वी आनंद
Click for full image

हैदराबाद 23 नवंबर: तेलंगाना में सभी राशन शॉप्स को ई पी ओ ऐस (इलेक्ट्रॉनिक प्वाईंट आफ़ सेल)की द्वारा पूरी तरह से ऑटोमेटिक बनाने की तजवीज़ है। इसके अलावा गोदामों में सीसीटीवी कैमरे भी लगाए जाएंगे ताकि अवामी निज़ाम तक़सीम में सुधार लाया जा सके।

राज्य विभाग सिविल स्पलाईस राज्य भर में आधार से जुड़े राशन की तक़सीम के निज़ाम के लिए टेंडर मांगा है। तेलंगाना में जुमला 17,200 राशन शॉप्स हैं। आयुक्त सिविल स्पलाईस सी वी आनंद ने कहा कि इस योजना को अगले महीने से शुरु किए जाने की उम्मीद है।

उन्होंने कहा कि फरवरी तक राज्य में सभी राशन शॉप्स मुकम्मिल ऑटोमेटिक होजाएंगे। इस समय राशन शॉप्स पर सभी काम सामान्य तौर पर अंजाम दिए जाते हैं और केवल ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम हुदूद में ऑटोमेटिक निज़ाम शुरू की गई है। उन्होंने बताया कि मंडल स्तर के सभी 171 गोदामों में सीसीटीवी कैमरे स्थापित करने की भी योजना है।

उसे जवाइंट कलेक्टर और कमिशनर के दफ़ातिर से कनेक्ट किया जाएगा। राशन सरबराह करने वाली सभी ट्रांसपोर्ट गाड़ीयों पर हैड ऑफ़िस में जी पी एस के ज़रीये नज़र रखी जाएगी। महिकमा सिविल स्पलाईस ने फेर प्राइज़ शॉप्स डीलर्स और राशन कार्ड रखने वालों को ज़ख़ीरे के बारे में एसएमएस के ज़रीया वाक़िफ़ कराने का भी मन्सूबा बनाया है।

बहुत जल्द वॉटसऐप सुविधा प्रदान की जाएगी जहां जनता अपनी शिकायतें दर्ज करा सकते हैं। सी वी आनंद ने कहा कि शिकायतों के लिए पहले से मौजूद सुविधाओं के अलावा यह अतिरिक्त सुविधा होगी। उन्होंने कहा कि कोई भी राशन कार्ड गीरनदा अगर ऐसे समय जबकि राशन दुकान खुली रहनी चाहिए, बंद दिखे तो वह तस्वीर लेकर वॉट्सऐप पर भेज सकता है।

तेलंगाना में राशन की मांग और हुसूल के लिए ऑनलाइन सिस्टम पर अमल किया जा रहा है, इस वजह से 500 और 1000 रुपये की मुद्रा का चलन बंद करने के फैसले का ज्यादा असर किसानों पर नहीं होगा क्योंकि पहले ही अपने पैसे पहले ही खातों में स्थानांतरित की जा रही है।

Top Stories