Thursday , December 14 2017

राष्ट्रीय जनतादल और कांग्रेस का जनतादल (यू)से मुफ़ाहमत का इशारा

लोक सभा इंतेख़ाबात में बी जे पी की ज़बरदस्त कामयाबी के बाद राष्ट्रीय जनतादल और कांग्रेस ने जनतादल (मुत्तहदा) के साथ आजलाना मुफ़ाहमत का इशारा दिया है ताकि सेकुलर वोटों की मज़ीद तक़सीम रोकी जा सके। बिहार कांग्रेस के क़ाइद प्रेम चंद मिश

लोक सभा इंतेख़ाबात में बी जे पी की ज़बरदस्त कामयाबी के बाद राष्ट्रीय जनतादल और कांग्रेस ने जनतादल (मुत्तहदा) के साथ आजलाना मुफ़ाहमत का इशारा दिया है ताकि सेकुलर वोटों की मज़ीद तक़सीम रोकी जा सके। बिहार कांग्रेस के क़ाइद प्रेम चंद मिश्रा ने कहा कि हम जे डीयू के साथ मुफ़ाहमत को मुस्तरद नहीं करते ताकि मुस्तक़बिल में सेकुलर वोटों को मृतकज़ किया जा सके।

उन्होंने इशारा दिया कि लालू प्रसाद ज़ेरे क़ियादत आर जे डी ओ जेडीयू के दरमियान अज़ सर-ए-नौ इत्तेहाद का इमकान मौजूद है क्योंकि दोनों भी साबिक़ जनतादल की शाख़ें हैं। उन्होंने कहा कि मुफ़ादात हासिला को बिहार में वसीअतर मुफ़ादात केलिए जगह ख़ाली करनी चाहिए ।

बिहार में चालीस लोक सभा नशिस्तें हैं। मिश्रा ने टेलीफ़ोन पर इंटरव्यू देते हुए कहा कि अगर सियासी पार्टीयों के दरमियान जिन के सेकुलर नज़रियात हैं मुफ़ाहमत का कोई इमकान है तो इस से इस्तिफ़ादा ज़रूरी है। झूटी अना और साबिक़ दुश्मनी को फ़िर्खापरस्त ताक़तों को शिकस्त देने के रास्ते में रुकावट नहीं बनना चाहिए।

कांग्रेस और राष्ट्रीय जनतादल एक इत्तेहाद में शामिल हैं दोनों को अली उल-तरतीब सिर्फ़ दो और चार नशिस्तें हासिल हुई हैं। इस बात के बावजूद के दोनों ने मुशतर्का तौर पर 28.5 फ़ीसद वोट हासिल किए। बरसर‍-ए‍‍-इक्तेदार जेडीयू का सफ़ाया होगया । उसे सिर्फ़ दो नशिस्तें हासिल हुईं जबकि बी जे पी को 22 और उसकी हलीफ़ लोक जन शक्ति पार्टी जिसकी क़ियादत राम विलास पासवान करते हैं छः नशिस्तें हासिल हुईं।

आर जे डी ने एतराफ़ किया कि वोटों को नशिस्तों में तबदील करने से वो क़ासिर रही क्योंकि जेडीयू ने खेल बिगाड़ दिया था । आर जे डी के तर्जुमान ने कहा कि ये कहना दुरुस्त नहीं होगा कि हम ने जे डी (यू ) के साथ इत्तेहाद के इमकानात को मुस्तरद कर दिया है । तीवारी ने कहा कि आर जे डी को एहसास होगया है कि सेकूलर कैंम्प को वोटों में बी जे पी के हिस्से पर ग़लबा हासिल है।

बशर्तिके जेडीयू आर जे डी और कांग्रेस के साथ इत्तेहाद करले। जेडीयू ने जुमला इस्तेमाल होने वाले वोटों का 15.8 और कांग्रेस और आर जे डी ने तक़रीबन बी जे पी और एलजेपी से 10 फ़ीसद ज़्यादा वोट हासिल किए। बी जे पी और एल जे पी को इस्तेमाल होने वाले जुमला वोटों का अली उल-तरतीब 29.4 और 6.4 फ़ीसद हासिल हुआ।

आर जे डी उम्मीदवारों ने 2 ता 3 लाख वोट हर हलक़े में हासिल किए। अगर जेडीयू खेल ख़राब ना करती तो आर जे डी को ज़्यादा नशिस्तें हासिल होसकती थीं। उन्होंने कहा कि आर जे डी क़ाइद लालू प्रसाद यादव का आहनी अज़म के फ़िर्ख़ापरस्त ताक़तों से जंग की जाएगी, इस सिलसिले में नुमायां फ़ैसले करसकता है।

TOPPOPULARRECENT