Wednesday , August 22 2018

‘राहिल शरीफ से कश्मीर में सैनिक भेजने का आह्वान करता हूँ’ – हाफिज सईद

मुम्बई हमले के षडयंत्रकर्ता और जमात-उद-दवा के प्रमुख हाफिज सईद ने सेना प्रमुख जनरल राहिल शरीफ से पाकिस्तान के संस्थापक एमए जिन्ना के लंबित आदेश का ‘पालन करने’ के लिए कश्मीर में सैनिक भेजने का आह्वान किया है।

रविवार को यहां ‘डिफेंस काउंसिल ऑफ पाकिस्तान’ के बैनर तले एक रैली को संबोधित करते हुए सईद ने दावा किया, ‘कश्मीरियों ने विभाजन से पहले घोषणा की थी कि वे पाकिस्तान के साथ रहना चाहते हैं। लेकिन विभाजन के बाद भारत ने जबरन जम्मू कश्मीर में सेना भेज दी।’

उसने कहा, ‘इस पर कायदे आजम मोहम्मद अली जिन्ना ने कमांडर इन चीफ को सैनिक भेजकर जवाब देने का आदेश दिया लेकिन उन्होंने आदेश मानने से इनकार कर दिया। अब मैं जनरल राहिल शरीफ से जम्मू और कश्मीर में सैनिक भेजने का आह्वान करता हूं क्योंकि कायदे आजम का आदेश तो लंबित है।’

सईद ने कहा कि वह भारत के साथ लड़ाई करने को नहीं कह रहा है लेकिन उन्हें (प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और सेना प्रमुख राहिल शरीफ) को कश्मीर मुद्दे पर अवश्य ही रणनीति बनानी चाहिए।

उसने अपना राग अलापते हुए कहा, ‘पाकिस्तान युद्धक्षेत्र बन गया है और निर्दोष कश्मीरी मारे जा रहे हैं जबकि मोदी बलूचिस्तान को अलग करने की बात कर रहे हैं। हमारे प्रधानमंत्री चुप क्यों हैं और वह उसी शैली में मोदी को जवाब देने में अनिच्छुक क्यों हैं?’ हाफिज सईद लश्कर-ए-तैयबा का संस्थापक है और उस पर एक करोड़ डालर का इनाम घोषित है।

उसने कहा कि शरीफ को चकोठी तक राहत सामग्री भेजनी चाहिए ताकि कश्मीरियों को यकीन होगा कि पाकिस्तानी प्रधानमंत्री उनके साथ हैं। सईद के बेटे तल्हा सईद की अगुवाई में जमात उद दावा का एक कारवां पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के चकोठी में नियंत्रण रेखा पर धरने पर बैठा था और उसने मांग की थी कि भारत कश्मीरियों के लिए उनके द्वारा लायी गयी राहत सामग्री स्वीकार करे।

TOPPOPULARRECENT