Thursday , May 24 2018

राहुल का कारकर्दगी पर इनामात और सज़ाओं का निज़ाम

नई दिल्ली, 16 फ़रवरी: राहुल गांधी ने आज वाज़िह इशारा दिया कि वो कांग्रेस में उस की कारकर्दगी को सुस्त और दरुस्त बनाने के लिए कारकर्दगी की बुनियाद पर इनामात और सज़ाओं का निज़ाम क़ायम करना चाहते हैं। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदूर और सी एल

नई दिल्ली, 16 फ़रवरी: राहुल गांधी ने आज वाज़िह इशारा दिया कि वो कांग्रेस में उस की कारकर्दगी को सुस्त और दरुस्त बनाने के लिए कारकर्दगी की बुनियाद पर इनामात और सज़ाओं का निज़ाम क़ायम करना चाहते हैं। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदूर और सी एल पी क़ाइदीन के साथ एक मुलाक़ात में उन्होंने कहा कि टिक्टों की तफ़सील के लिए एक बुनियाद का ताय्युन ज़रूरी है ताकि उम्मीदवार की अहलियत का फ़ैसला किया जा सके और इंतिख़ाबात के दौरान उसे टिकिट दिया जा सके।

नायब सदर कांग्रेस ने ग्रुप बंदी के रुजहान की मुज़म्मत करते हुए पार्टी कारकुनों से इसे तर्क करदेने और अवाम से जुड़ जाने की हिदायत दी। एक रियासती क़ाइद ने जो इजलास में शरीक हुए थे, कहा कि राहुल गांधी इनामात और सज़ाओं के निज़ाम पर अमल करना चाहते हैं जो कांग्रेसी ख़ुलूस के साथ काम करेंगे। उन्हें इनामात और ज़िम्मेदारीयां अता की जाएंगी। उन्होंने 3 , 4 कमेटियों को क़ायम करने का भी फ़ैसला किया है और कहा हैकि या तो आप को अहकाम की तामील करनी होगी या साफ़ इन्कार करना होगा।

राहुल गांधी का ये तबसिरा नुमायां एहमियत रखता है क्योंकि वो अक्सर क़वाइद‍ ओ‍र‌ ज‌वाबत और पार्टी में काम के कल्चर की गैर मौजूदगी की शिकायत करते रहे हैं। राहुल गांधी ने कहा कि रियासती क़ाइदीन को सिर्फ़ इलेक्शन के नुक़्ता-ए-नज़र से काम नहीं करना चाहीए बल्कि तंज़ीम को मुस्तहकम भी करना चाहीए। प्रदेश कांग्रेस के सदूर और सी एल पी क़ाइदीन से बातचीत के दौरान उन्होंने 2 क़ाइदीन से इज़हार-ए-ख़्याल की ख़ाहिश की।

TOPPOPULARRECENT