Monday , December 18 2017

रियासत की तक़सीम नहीं होगी : शैलजा नाथ

हैदराबाद । 01 जनवारी: रियासती वज़ीर इबतिदाई तालीम-ओ-लाइब्रेरीज़ डाक्टर एस शैलजा नाथ ने आज फिर एक बार इस बात का इआदा किया कि रियासत आंध्र प्रदेश किसी सूरत में तक़सीम नहीं होगी बल्के मुत्तहदा रियासत आंध्र प्रदेश की हैसियत से ही बरक़रार

हैदराबाद । 01 जनवारी: रियासती वज़ीर इबतिदाई तालीम-ओ-लाइब्रेरीज़ डाक्टर एस शैलजा नाथ ने आज फिर एक बार इस बात का इआदा किया कि रियासत आंध्र प्रदेश किसी सूरत में तक़सीम नहीं होगी बल्के मुत्तहदा रियासत आंध्र प्रदेश की हैसियत से ही बरक़रार रहेगी कीवनके मर्कज़ी वज़ीर दाख़िला सुशील कुमार शनदे से रियासत की तक़सीम करके अलहदा रियासत तेलंगाना की तशकील अमल में लाने एसा कोई फैसला करने से मुताल्लिक़ हरगिज़ कोई तवक़्क़ो नहीं की जा सकती है बल्के सुशील कुमार शनदे मुत्तहदा रियासत आंध्र प्रदेश को बरक़रार रखने को ही तरजीह देंगे ।

डाक्टर एस शैलजा नाथ ने आज यहां सक्रिय ट्रीट में अख़बारी नुमाइंदों को बताया कि रियासत में पसमांदा-ओ-ग़ैर तरक़्क़ी याफ़ता मुक़ामात तमाम इलाक़ों में पाए जाते हैं ।

लिहाज़ा इन तमाम पसमांदा इलाक़ों की तरक़्क़ी के लिए इक़दामात करने की शदीद ज़रूरत है । उन्हों ने कहा कि रियासत को मुत्तहदा रियासत आंध्र प्रदेश रखते हुए इस रियासत की तेज़ रफ़्तार तरक़्क़ी को यक़ीनी बनाया जा सकता है।

लिहाज़ा हम सीमा आनधराई क़ाइदीन कोई भी मुत्तहदा रियासत आंध्र प्रदेश से इलाक़ा तेलंगाना को अलहदा करने की हरगिज़ कोई ख़ाहिश नहीं करेंगे । और मुत्तहदा रियासत आंध्र प्रदेश की बरक़रारी के लिए ही हम अपने मौक़िफ़ पर बरक़रार रहेंगे । और मर्कज़ी हुकूमत पर भी मुत्तहदा रियासत के लिए ही अपने दबाव‌ में इज़ाफ़ा किया जाएगा ।

TOPPOPULARRECENT