Monday , December 18 2017

रियासत को मुत्तहिद रखने का मश्वरा, तक़सीम की सूरत में तजावीज़ पर अमल का दबाव

सीमा आंध्र की नुमाइंदगी करने वाले मर्कज़ी वुज़रा ने रियासत को मुत्तहिद रखने का ग्रुप ऑफ़ मिनिस्टर्स से मुतालिबा किया। रियासत की तक़सीम लाज़िमी होने की सूरत में हैदराबाद के हुदूद एच एम डी ए को मुस्तक़िल तौर पर मर्कज़ का ज़ेरे इंतेज़ाम इल

सीमा आंध्र की नुमाइंदगी करने वाले मर्कज़ी वुज़रा ने रियासत को मुत्तहिद रखने का ग्रुप ऑफ़ मिनिस्टर्स से मुतालिबा किया। रियासत की तक़सीम लाज़िमी होने की सूरत में हैदराबाद के हुदूद एच एम डी ए को मुस्तक़िल तौर पर मर्कज़ का ज़ेरे इंतेज़ाम इलाक़ा बनाने का मुतालिबा किया।

आज दिल्ली में मर्कज़ी वुज़रा जे डी सीलम, चिरंजीवी, के एस राव, पल्लम राजू, पूरनदेश्वरी, पनाबाका लक्ष्मी वगैरह ने ग्रुप ऑफ़ मिनिस्टर्स से मुलाक़ात की।

रियासत को मुत्तहिद रखने का मुतालिबा किया। तक़सीम लाज़िमी होने की सूरत में चंद तजावीज़ पेश किए बादअज़ां मीडिया से बात-चीत करते हुए मर्कज़ी ममलिकती वज़ीर फ़ाइनेन्स जे डी सीलम ने कहा कि रियासत को मुत्तहिद रखने की सूरत में ही तीनों इलाक़ों की तरक़्क़ी है हम रियासत को मुत्तहिद रखने से होने वाले फ़ायदे और तक़सीम करने से पैदा होने वाले मसाइल पर एक याददाश्त ग्रुप ऑफ़ मिनिस्टर्स को पेश कर चुके हैं।

और उम्मीद करते हैं कि रियासत को मुत्तहिद रखा जाएगा उन्हों ने कहा कि रियासत को तक़सीम करना लाज़िमी हो तो सीमा आंध्र के 5 करोड़ अवाम के जज़बात का एहतेराम करते हुए हैदराबाद के हुदूद एच एम डी ए को मुस्तक़िल तौर पर मर्कज़ का ज़ेरे इंतेज़ाम इलाक़ा बनाने का मुतालिबा किया गया।

रियासत को तक़सीम करते हुए सीमा आंध्र से नाइंसाफ़ी करने की मुख़ालिफ़त की गई है। इस के इलावा रियासत की तक़सीम से पानी और बर्क़ी के मसाइल पर भी रौशनी डाली गई है।

TOPPOPULARRECENT