रियासत भर में 34.22 करोड़ की लूट-चोरी

रियासत भर में 34.22 करोड़ की लूट-चोरी
रांची 19 जून : साल 2012 में रियासत भर में लूट, डकैती, यौम छेद और चोरी की तकरीबन 10764 वारदात हुईं। इन वारदातों में लाखों रुपये नकद समेत 3422.4 लाख रुपये के सामान मुजरिमों के हाथ लगे। जबकि पुलिस की तरफ से की गयी कार्रवाई में सिर्फ 807.8 लाख रुपये के स

रांची 19 जून : साल 2012 में रियासत भर में लूट, डकैती, यौम छेद और चोरी की तकरीबन 10764 वारदात हुईं। इन वारदातों में लाखों रुपये नकद समेत 3422.4 लाख रुपये के सामान मुजरिमों के हाथ लगे। जबकि पुलिस की तरफ से की गयी कार्रवाई में सिर्फ 807.8 लाख रुपये के सामान और नकद रकम ही बरामद किये जा सके हैं।

मुजरिमों के पास से 2614.6 लाख की जायदाद बरामद कर पाने में रियासत की पुलिस नाकामयाब रही है। लूट और चोरी गये सामान व नकद रकम की बरामदगी के मामले में पहला मुकाम जमशेदपुर पुलिस, जबकि दूसरा मुकाम धनबाद पुलिस का आता है। वहीं बरामदगी में सबसे नीचे रांची पुलिस का मुकाम है।

इस बात की तस्दीक झारखंड पुलिस और नेशनल रिकॉर्ड ऑफ क्राइम ब्यूरो (एनसीआरबी) की तरफ से तैयार किये गये अदाद व शुमार से भी होती है। मुजरिमों को सबसे ज्यादा पैसा चोरी में हाथ लगे हैं। तद्दाद और शुमार के मुताबिक, रियासत भर में तकरीबन 440.9 लाख रुपये के सामान और नकद की चोरी हुई। वहीं यौम भेदन कर मुजरिम 309 लाख रुपये के सामान और नकद ले उड़े. दूसरी तरफ सड़क लूट में मुजरिमों के हाथ 250. 5 लाख रुपये के सामान और नकद लगे।

Top Stories