Sunday , July 22 2018

रियासत में तरक़्क़ीयाती कामों से अप्पोज़ीशन को बौखलाहट

निज़ामबाद 26 अगस्त: वज़ीर कमर्शीयल टैक्स श्रीनिवास यादव ने निज़ामबाद में सहाफ़ीयों से बातचीत करते हुए कहा कि रियासती हुकूमत के तरक़्क़ीयाती कामों से बौखलाहट का शिकार अप्पोज़ीशन जमातें सस्ती शौहरत के हासिल के लिए हुकूमत को मन्सूबा बंद तरीकके से बदनाम करने की साज़िश रचाररहे हैं जबकि अप्पोज़ीशन जमातें पिछ्ले 60 साल से इक़तिदार पर रहते हुए कोई भी तरक़्क़ीयाती काम अंजाम नहीं दिया जिसकी वजह से रियासती हुकूमत को तरक़्क़ीयाती कामों की अंजाम दही में दुशवारीयों को सामना करना पड़ रहा है।

लेकिन रियासती हुकूमत चुनाव के मौके पर किए गए तमाम एलानात पर अमल आवरी के लिए संजीदा है। हुकूमत ने इक़तिदार में आने से पहले मुलाज़िमतों की फ़राहमी, आबी सहूलतों की फ़राहमी और फंड्स की मंज़ूरी का एलान किया था। रियासती हुकूमत को फंड्स की कोई क़िल्लत नहीं है इसी के तहत कई तरक़्क़ीयाती काम की अंजाम दही के लिए फंड्स की मंज़ूरी अमल में लाई जा रही है बेरोज़गार नौजवानों को रोज़गार फ़राहम करने की ग़रज़ से पुलिस-ओ-दुसरे महिकमों में भरतीयों को अमल में लाया गया।

चीफ़ मिनिस्टर चन्द्रशेखर राव‌ ने तमाम मह्कमाजात से मुलाज़िमतों की भर्ती के लिए मख़लवा जायदादों की फ़हरिस्त को तलब किया है। रियासत की तक़सीम के बाद आई ए एस ओहदेदारों के मुख़तस में ताख़ीर की वजह से परेशानीयों का सामना करना पड़ रहा था।

TOPPOPULARRECENT