Tuesday , December 12 2017

रियासत में थर्मल प्लांटस से इज़ाफ़ी बर्क़ी पैदावार पर-ज़ोर

हैदराबाद 08 सितंबर: चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव‌ ने कहा कि रियासत में थर्मल पावर प्लांटस के ज़रीये इज़ाफ़ी बर्क़ी पैदा की जानी चाहीए। रियासत में हाईड्रो पावर की पैदावार का कोई इमकान नहीं है क्युंकि ज़ख़ाइर आब में पानी दस्तयाब नहीं है। चीफ़ मिनिस्टर ने कहा कि सारिफ़ीन की जरूरतों को पूरा करने के लिए महिकमा बर्क़ी की तरफ से मार्किट से भी बर्क़ी ख़रीदी जाएगी।

चीफ़ मिनिस्टर चन्द्रशेखर राव ने एम डी जीनको डी प्रभाकर राव‌ के साथ एक जायज़ा मीटिंग मुनाक़िद किया। उन्होंने वाज़िह किया कि नागरगुना सागर और सिरी सेलम ज़ख़ाइर आब से बर्क़ी पैदा करने का कोई इमकान नहीं है।

उन्होंने ओहदेदारों से कहा कि वो ज़राअत के शोबे को मुनासिब बर्क़ी फ़राहम करें। उन्होंने कहा कि 24 घंटे बर्क़ी सरबराही को घरेलू और तिजारती मक़ासिद के लिए बरक़रार रखा जाना चाहीए।

चीफ़ मिनिस्टर ने तजवीज़ किया कि ओहदेदार ख़रीद सीज़न में बर्क़ी के इस्तेमाल के ताल्लुक़ से एक एक्शण प्लान तैयार करें। उन्होंने ओहदेदारों से कहा कि वो रियासत में बर्क़ी की सूरत-ए-हाल का यौमिया असास पर जायज़ा लें।

TOPPOPULARRECENT