रियो ओलिंपिक: भारतीय टेनिस में विवाद, पेस बोपन्ना संग रहने से किया इंकार

रियो ओलिंपिक: भारतीय टेनिस में विवाद, पेस बोपन्ना संग रहने से किया इंकार

रियो ओलंपिक से पहले लिएंडर पेस को लेकर विवादों ने भारतीय टेनिस को झकझोर दिया था लेकिन इस खेल में मिश्रित युगल में भारत पदक का दावेदार है जिसमें सानिया मिर्जा और रोहन बोपन्ना चुनौती पेश करेंगे। लंदन ओलंपिक से पहले जिस तरह का ड्रामा हुआ था, उसे रियो ओलंपिक से पहले भी दोहराया गया। पेस और उनके जोड़ीदार रोहन बोपन्ना के बीच मतभेदों की खबरें यहां भी सुर्खियों में है। बोपन्ना ने पेस की बजाय पहले निचली रैंकिंग वाले साकेत माइनेनी के साथ खेलने की इच्छा जताई थी लेकिन अखिल भारतीय टेनिस संघ के दखल देने के बाद वह राजी हुए। ऐसी खबरें हैं कि पेस ने खेलगांव में उनके साथ एक कमरे में रहने से इनकार कर दिया।

लगातार सातवां ओलंपिक खेल रहे पेस उद्घाटन समारोह से एक दिन पहले खेलगांव पहुंचे। वह देर से पहुंचे और उनके लिये कोई कमरा नहीं था। बाद में उन्हें गुरुवार (4 अगस्त) की शाम कमरा दिया गया। भारत के दल प्रमुख राकेश गुप्ता ने स्पष्ट किया कि पेस अकेले ही रहने वाले थे। उन्होंने कहा,‘पेस को कमरा दे दिया गया है और इसमें कोई विवाद नहीं है। उनके जैसे लीजैंड को अलग कमरा मिलना ही चाहिए।’ पेस के देर से आने के कारण बोपन्ना ने सर्बिया के नेनाद जिमोंजिच के साथ अभ्यास किया। उन्होंने सानिया मिर्जा के साथ भी अभ्यास किया जबकि विरोधी टीम में कोच जीशान अली और पहली बार ओलंपिक खेल रही महिला युगल खिलाड़ी प्रार्थना थोंबरे थी।

Top Stories