Monday , December 18 2017

रिश्वत लेते धराये सिक्यूरिटी

जमशेदपुर 26 अप्रैल : टाटा स्टील में स्टिंग ऑपरेशन के जरिये पांच सिक्यूरिटी अहलकारों को रिश्वत लेते पकड़ा गया है। पांचों सिक्यूरिटी को फौरी असर से सस्पेंड कर दिया गया है।

जमशेदपुर 26 अप्रैल : टाटा स्टील में स्टिंग ऑपरेशन के जरिये पांच सिक्यूरिटी अहलकारों को रिश्वत लेते पकड़ा गया है। पांचों सिक्यूरिटी को फौरी असर से सस्पेंड कर दिया गया है।

स्टिंग ऑपरेशन में पकड़े गये सिक्यूरिटी में सुनील सिंह, बीके सिंह, आरबी सिंह, सुरेंद्र सिंह और के तबसोई शामिल हैं। इन पांचों के खिलाफ महकमा ज़ाती तहकीकात कर नौकरी से बरखास्त करने की तैयारी की जा रही है। स्टिंग ऑपरेशन करने के बाद एक मुलाजिम ने इसकी वीडियो रिकॉर्डिंग टाटा स्टील के सीनियर हिकम को सौंप दी थी। टाटा स्टील के आली अफसरान ने स्टिंग ऑपरेशन की रिकॉर्डिंग की लैब में जांच करायी।

जांच रिपोर्ट में रिकॉर्डिंग को सही बताये जाने और यह बात यकीनी कर लिये जाने के बाद कि रिकॉर्डिंग पूरी तरह सही है, उसमें कहीं किसी तरह की छेड़छाड़ नहीं की गयी है, इंतेजामिया ने कार्रवाई की है। पांचों को फौरी तौर से सस्पेंड कर दिया गया है. उनका गेट पास छीन लिया गया है।

तमाम मुलाजमत से बरखास्त करने की अमल शुरू कर दी गयी है। तब तक के लिए सस्पेंड टिल पेंडिंग इनक्वायरी का लेटर पकड़े गये सिक्यूरिटी को दिया गया है। इस मसले पर देर रात तक मैनेजमेंट का हक नहीं लिया जा सका। यूनियन के होदेदारों ने भी इस बारे में जानकारी होने से इनकार किया है।

एक माह लगा स्टिंग ऑपरेशन पूरा करने में

टाटा स्टील के मेन गेट से लेकर कंपनी के अन्दर काम के दौरान कीमती सामान की चोरी कराने और गैर कानूनी तरीके से ठेकेदारों से मिलीभगत की शिकायतें मिलने के बाद टाटा स्टील के अन्दर ही एक मुलाजिम के ज़रिये से स्टिंग ऑपरेशन कराया गया।

बताया जाता है कि स्टिंग ऑपरेशन में पांच मुलाज्मिन को रिश्वत लेते देखा गया। स्टिंग ऑपरेशन के दौरान बनी वीडियो में पांचों सिक्यूरिटी को रिश्वत की डिमांड करते और रिश्वत की रकम लेते हुए साफ देखा गया। इस स्टिंग ऑपरेशन को पूरा करने में एक माह का समय लगा है।

TOPPOPULARRECENT