रिहाईसगाह खाली करने के नोटिस से पहले वज़ीर खफा

रिहाईसगाह खाली करने के नोटिस से पहले वज़ीर खफा
रिहाईस गाह खाली करने के नोटिस पर भाजपा कोटे के साबिक़ वजरा ने एतराज़ ज़हीर की है। उनका कहना है कि मुतबादिल रिहाईस के मुद्दे पर एसेम्बली सदर या कानून साज कोंसिल के चेयरमैन के साथ कोई बैठक नहीं हुई है और न ही कोई नोटिफिकेशन हुआ है, ले

रिहाईस गाह खाली करने के नोटिस पर भाजपा कोटे के साबिक़ वजरा ने एतराज़ ज़हीर की है। उनका कहना है कि मुतबादिल रिहाईस के मुद्दे पर एसेम्बली सदर या कानून साज कोंसिल के चेयरमैन के साथ कोई बैठक नहीं हुई है और न ही कोई नोटिफिकेशन हुआ है, लेकिन रिहाईस गाह खाली करने का नोटिस जारी कर दिया गया है।

साबिक़ वज़ीर गिरिराज सिंह ने कबुल किया कि कानूनन साबिक़ वजरा को इन बंगलों में नहीं रहना चाहिए। भाजपा के तमाम साबिक़ वज़ीर कानून का पालन करनेवाले हैं। हालांकि, बंगला खाली कराने का हुकूमत का तरीका बदले की जज़्बात को दरसाता है।

हुकूमत को मुतबादिल इंतेजाम करनी चाहिए। हुकूमत सिनयर और जूनियर एसेम्बली रुक्न तक में फर्क नहीं कर पा रही है। रिहाईस अलोट करने की सीख बिहार हुकूमत को दिल्ली हुकूमत से लेनी चाहिए। बंगला हमारे लिए कोई इज्ज़त का मौजू नहीं है, लेकिन इसके लिए सिस्टम तो बने।

Top Stories