Sunday , September 23 2018

रुस की पुतिन सरकार ने ट्रम्प प्रशासन को सीरिया शांति वार्ता के लिए न्योता दिया

वाशिंगटन। अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रंप प्रशासन को रूस की सरकार ने सीरिया शांति वार्ता के लिए आमंत्रित किया है। रूस के इस अप्रत्याशित फैसले को ट्रंप और पुतिन की नजदीकियों से जोड़कर देखा जा रहा है। ज्ञात हो कि जनवरी में आयोजित होने वाले इस शांति वार्ता में तुर्की और ईरान भी हिस्सा लेंगे। पिछली बार के सम्मेलन में ओबामा प्रशासन को आमंत्रित नहीं किया गया था।

वहीं अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने संकेत दिया है कि वह रूस पर लगे प्रतिबंध हटा सकते हैं और यदि चीन अपनी मुद्रा एवं व्यापार नीतियों में सुधार नहीं करता है तो वह ‘‘वन चाइना’ नीति के साथ खडे नहीं होंगे।
ट्रंप ने ‘द वाल स्टरीट जरनल’ में शुक्रवार को प्रकाशित एक साक्षात्कार में कहा कि वह अमेरिकी चुनाव को प्रभावित करने के लिए मास्को के कथित साइबर हमलों को लेकर पिछले महीने रूस पर अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा के प्रशासन द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों को ‘‘कम से कम कुछ समय के लिए’ बरकरार रखेंगे।

उन्होंने कहा कि लेकिन यदि रुस हिंसक अतिवाद से निपटने जैसे अहम लक्ष्यों को हासिल करने में अमेरिका की मदद करता है तो वह दंडात्मक कदमों को हटा सकता है। ट्रंप ने कहा कि वह 20 जनवरी को कार्यभार ग्रहण करने के बाद रुस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मुलाकात करने को तैयार हैं। ट्रंप ने पुतिन की सराहना की और केवल अनिच्छा से अमेरिकी खुफिया के इस निष्कर्ष को स्वीकार किया कि रुसी हैकरों ने पुतिन के आदेश पर अमेरिकी चुनाव में हस्तक्षेप किया।

TOPPOPULARRECENT