रूस के फ़िज़ाई हमलों में 200 शामी शहरी हलाक हुए

रूस के फ़िज़ाई हमलों में 200 शामी शहरी हलाक हुए

इन्सानी हुक़ूक़ के आलमी इदारे एमनेस्टी इंटरनेशनल ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि रूस की जानिब से शाम में की जाने वाले फ़िज़ाई कार्यवाईयों में कम से कम 200 आम शहरी हलाक हुए हैं। एमनेस्टी इंटरनेशनल ने अपनी रिपोर्ट में शाम में इन्सानी हुक़ूक़ के लिए काम करने वाले कारकुनों और ऐनी शाहिदीन का हवाला दिया है।

इन्सानी हुक़ूक़ के आलमी इदारे का कहना है कि रूस ने रवां बरस 30 सितंबर से 29 नवंबर के दौरान शाम में 25 से ज़ाइद फ़िज़ाई हमले किए। एमनेस्टी इंटरनेशनल के मुताबिक़ उस की जानिब से की गई तहक़ीक़ के नताइज (रूस की जानिब से) बैनुल अक़वामी इन्सानी क़ानून के एहतिराम की संगीन नाकामी को ज़ाहिर करते हैं।

Top Stories