रूस-भारत की डील से बौखलाए ट्रम्प ने दी चेतावनी, कहा-जल्द पता चलेगा हमारा फ़ैसला

रूस-भारत की डील से बौखलाए ट्रम्प ने दी चेतावनी, कहा-जल्द पता चलेगा हमारा फ़ैसला

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प भारत द्वारा रूस से एस-400 वायु प्रतिरक्षा प्रणाली की ख़रीद की डील पर इतना बौखला गए हैं कि उन्होंने अब नई दिल्ली सरकार को चेतावनी दे डाली है।

समाचार पत्र स्पूतनिक की रिपोर्ट के अनुसार अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने सख़्त चेतावनी देते हुए कहा कहा है कि रूस से पांच अरब डॉलर के एस-400 हवाई रक्षा प्रणाली ख़रीद सौदे पर भारत के विरुद्ध जल्द ही दंडात्मक कार्यवाही करेंगे। इस बीच व्हाइट हाउस के सूत्रों ने सूचना दी है कि ‘काउंटरिंग अमेरिकाज़ एडवर्सरीज़ थ्रू सैंक्शंस एक्ट’ (काट्सा) के अंतर्रगत रूस के साथ हथियार के सौदे पर अमेरिकी प्रतिबंधों से भारत को छूट देने का अधिकार केवल ट्रम्प के ही पास है और अब डोनल्ड ट्रम्प भारत से इतना ग़ुस्से में हैं कि वह भारत पर काट्सा एक्ट के तहत प्रतिबंध लगाने पर विचार कर रहे हैं।

भारत और रूस के बीच हुए सौदे के बारे में पूछे जाने पर ट्रम्प ने कहा कि “भारत को जल्द पता चल जाएगा और भारत को पता चलने जा रहा है, आप जल्द ही देखेंगे।” ट्रम्प ने यह भी कहा कि ईरान से चार नवंबर की समयसीमा के बाद तेल आयात जारी रखने वाले देशों के बारे में भी अमेरिका कड़ाई से निपटेगा। भारत और चीन जैसे देशों के ईरान से तेल आयात जारी रखने के बारे में पूछे जाने पर ट्रम्प ने कहा,” समय आने पर दुनिया देखेगी”

इस बीच भारतीय अधिकारियों ने ट्रम्प की इस चेतावनी पर पतिक्रिया देते हुए कहा है कि अमेरिका द्वारा प्रतिबंध लगाने की धमकियों के बावजूद, नई दिल्ली सरकार भारत और रूस के बीच हुए पांच अरब डॉलर के एस-400 हवाई रक्षा प्रणाली ख़रीद सौदे से पीछे नहीं हटेगी।

याद रहे कि अमेरिका ने रूस के ऊपर काट्सा (CAATSA) कानून के अंतर्गत कुछ प्रतिबंध लगा रखे हैं। काट्सा एक्ट को अमेरिका ने अपने विरोधियों एवं प्रतिद्वंदियों से मुक़ाबले के लिए बनाया है, ऐसे ही प्रतिबंध अमेरिका ने ईरान और ऊत्तरी कोरिया पर भी लगा रखे हैं और इस एक्ट के मुताबिक़ कोई भी देश इन देशों के साथ रक्षा या इंटेलिजेंस से जुड़े समझौते करता है तो अमेरिका के रूस, ईरान और उत्तर कोरिया पर लगाए गए प्रतिबंध, इनसे समझौता करने वाले देश पर भी लागू हो जाएंगे।

ज्ञात रहे कि भारत ने रूस से समझौते के लिए अमेरिका से इन प्रतिबंधों में छूट की मांग की थी। पिछले सप्ताह रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन दो दिन की यात्रा पर भारत गए थे, उनकी इस यात्रा के दौरान करीब 37,000 करोड़ रुपये की एस-400 एयर डिफेंस सिस्टम की लेकर भारत के साथ समझौता हुआ था

Top Stories