Sunday , September 23 2018

रेलवे ने बंद किया रिजर्वेशन चार्ट की सुविधा, टिकट लेने के लिए मोबाइल नंबर जरुरी

रेलवे के नियमों व सुविधाओं में हर रोज कुछ ना कुछ बदलाव हो रहे हैं। नया बदलावा रिजर्वेशन चार्ट को लेकर किया गया है। इस बदलाव के अनुसार अब अगर आप रेल यात्रा करने जा रहे हैं तो आपके लिए यह जरूरी खबर है।

रेलवे ने 1 मार्च 2018 से रिजर्वेशन चार्ट की सुविधा बंद कर दी है। रेलवे बोर्ड के आदेश के अनुसार 1 मार्च से ट्रेन कोचों में अब रिजर्वेशन चार्ट नहीं चिपकाए जाएंगे।

रेलवे बोर्ड की ओर से यह व्यवस्था एक मार्च से लागू कर दी गई है। फिलहाल यह व्यवस्था 6 माह के लिए लागू की गई है। अगर यात्रियों के द्वारा मिले फीडबैक पर आगे की योजना बनाई जाएगी। रेलवे बोर्ड की निदेशक यात्री विपणन शैली श्रीवास्तव ने सभी रेल जोन को आदेश जारी किया था।

इसके तहत 1 मार्च 2018 से सभी ए-1, ए और बी श्रेणी के स्टेशनों से चलने वाली किसी भी ट्रेन के कोच पर रिजर्वेशन चार्ट नहीं चिपकाए जाएंगे। आदेश में कहा गया कि स्टेशन पर ही इलेक्ट्रॉनिक और प्रिंटेड डिस्प्ले बोर्ड पर ही रिजर्वेशन चार्ट लगाए जाए।

देश में रोजना चार्ट के लगाने के लिए काफी कागज का प्रयोग किया जाता है। साथ ही चार्ट को चिपकाने के लिए भी कर्मचारियों की जरूरत होती है।

यह देखते हुए रेलवे ने पेपरलैस होने की कवायद शुरू कर दी है। इसके अलावा रेलवे को स्टेशनरी पर खर्च होने वाले लाखों रुपए की बचत होगी।

रेलवे ने खर्च करने के लिए ट्रेन कोच पर रिजर्वेशन चार्ट को चिपकाने की सुविधा को बंद कर दिया है। रेलवे इस बचत राशि का उपयोग डिजिटलाइजेशन पर किया जाएगा।

रेलवे ने रिजर्वेशन चार्ट चिपकाने की सुविधा बंद करने के साथ ही टिकट रिजर्वेशन के समय यात्रियों को मोबाइल नंबर दर्ज कराना अनिवार्य कर दिया है।

रिजर्वेशन फॉर्म में अन्य जानकारियों के साथ मोबाइल नंबर दर्ज कराना जरूरी होगा। रेल यात्रियों को एसएमएस से रिजर्वेशन की स्थिति, बर्थ अपडेट की जानकारी देने की सुविधा काफी समय पहले ही शुरू कर दी थी।

TOPPOPULARRECENT