Sunday , December 17 2017

रेलवे बजट आवाम दुशमन , बे सिम्त और बेकार

रेलवे बजट में मुसाफ़िर किराया में इज़ाफ़ा पर ब्रहम तृणमूल कांग्रेस की सदर ममता बनर्जी ने आज रात वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह से ख़ाहिश की कि वो उनकी पार्टी के नामज़द दिनेश त्रिवेदी को वज़ीर रेलवे के ओहदा से बरतरफ़ कर दें। उन्हों ने पी टी आई से

रेलवे बजट में मुसाफ़िर किराया में इज़ाफ़ा पर ब्रहम तृणमूल कांग्रेस की सदर ममता बनर्जी ने आज रात वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह से ख़ाहिश की कि वो उनकी पार्टी के नामज़द दिनेश त्रिवेदी को वज़ीर रेलवे के ओहदा से बरतरफ़ कर दें। उन्हों ने पी टी आई से कहा कि वो वज़ीर-ए-आज़म को मकतूब रवाना कर चुकी हैं, जिसमें दिनेश त्रिवेदी की जगह मुकुल राय को देने की ख़ाहिश की गई है, जो पहले ही से मर्कज़ी वज़ीर हैं।

मग़रिबी बंगाल की चीफ़ मिनिस्टर का ये इक़दाम रात देर गए मंज़र-ए-आम पर आया जबकि त्रिवेदी ने अपनी मुसाफ़िर किरायों में इज़ाफ़ा की तजावीज़ का भरपूर दिफ़ा करते हुए कहा कि इस से बजट में 4 हज़ार करोड़ रुपय हासिल होंगे। दिन भर 61 साला त्रिवेदी ये इद्दिआ करते रहे थे कि उन्होंने जो कुछ किया वो रेलवे और मुल्क के मुफ़ाद में किया है और उन्हें अपनी वज़ारत से हटा दिए जाने की कोई फ़िक्र नहीं है।

तृणमूल कांग्रेस जो अवाम में मक़बूलियत का रवैय्या पैट्रोल की क़ीमत में इज़ाफ़ा के वक़्त भी इख़तियार करचुकी है, ख़ाहिश कर रही है कि किरायों में इज़ाफ़ा की तजवीज़ से दसतबरदारी इख्तेयार करली जाय और इंतिबाह दिया है कि वो वज़ीर-ए-आज़म को रेलवे वज़ीर के लिए दूसरे नाम की तजवीज़ पेश करेंगे। मुकुल राय मर्कज़ी वज़ीर-ए-ममलकत बराए जहाज़रानी है और तृणमूल कांग्रेस के सीनीयर क़ाइद हैं, जो क़ब्लअज़ीं वज़ीर-ए-ममलकत बराए रेलवेज़ 2 साल तक यानी गुज़श्ता साल जुलाई तक रह चुके हैं।

नंदीग्राम से मौसूला इत्तेला के बमूजब मग़रिबी बंगाल की चीफ मिनिस्टर और तृणमूल कांग्रेस की सदर ममता बनर्जी ने आज ऐलान किया कि वो ख़ुद अपने ही वज़ीर रेलवे दिनेश त्रिवेदी की तरफ़ से रेलवे बजट में मुसाफिरेन के किराये में इज़ाफ़ा की तजवीज़ को कुबूल करने की इजाज़त नहीं देंगी।

मिस बनर्जी ने आज यहां एक बड़े जल्सा-ए-आम से ख़िताब करते हुए कहा कि रेल किराये में इज़ाफ़ा की इजाज़त नहीं दी जाएगी। रेलवे किराये में इज़ाफ़ा से रेलवे को इस साल चार हज़ार करोड़ रुपये की ज़ाइद आमदनी की तवक़्क़ो है । मिस बनर्जी ने कहा कि वो इन किराये में इज़ाफ़ा की तजवीज़ से वाक़िफ़ नहीं थीं ।

उन्होंने कहा कि बहरहाल मैं यक़ीन दिलाती हूँ कि हम इज़ाफ़ों को कुबूल नहीं करेंगे। मिस बनर्जी के इस ब्यान के बाद एक सवाल पर मिस्टर त्रिवेदी ने जवाब दिया कि मैं उन्हें समझाने की कोशिश करूंगा इस दौरान तृणमूल कांग्रेस ने मुसाफिरेन के किराये में इज़ाफ़ा की तजवीज़ को आज मुस्तर्द कर दिया।

TOPPOPULARRECENT