रेलवे में मुलाज़िमत का झांसा देने वाला गिरफ़्तार

रेलवे में मुलाज़िमत का झांसा देने वाला गिरफ़्तार
Click for full image

हैदराबाद 21 जुलाई: महिकमा रेलवे में मुलाज़मत का झांसा देकर बेरोज़गार नौजवानों को ठिगने वाले एक धोके बाज़ को टास्क फ़ोर्स पुलिस ने गोपालापुरम पुलिस की मदद से गिरफ़्तार कर लिया। बताया जाता है कि 52 साला शेख़ फेरोज़ मुतवत्तिन जगत्याल करीमनगर, जहां नमां के साकिन सय्यद मुस्तफ़ा हुसैन, निज़ामबाद के मुतवत्तिन मुहम्मद अब्दुल जाविद, वहीद और याक़ूब हनीफ़ को महिकमा रेलवे में मुलाज़मत फ़राहम करने का दावा करते हुए लाखों रुपये वसूल करलिए। शेख़ फेरोज़ ने बेरोज़गार नौजवानों को बताया कि महिकमा रेलवे में इस के असर-ओ-रसूख़ हैं जिसकी बुनियाद पर वो आसानी से मुलाज़िमतें फ़राहम करने में मददगार साबित हो सकता है।

धोका बाज़ के दावओं पर भरोसा करते हुए मज़कूरा बेरोज़गार नौजवानों ने लाखों रुपये बतौर पेशगी हवाले की। 17 जुलाई को नौजवानों ने शेख़ फेरोज़ से मुलाज़िमत फ़राहम करने में ताख़ीर की वजूहात पता करने पर इसरार कर रहे थे जिसके सबब उसने जाविद को मेडिकल टेस्ट करवाने के बहाने उसे सिकंदराबाद के एक डाक्टर के क्लीनिक पर तलब किया।

तिब्बी मुआइने के बाद नौजवान ने तक़र्रुर नामा फ़राहम करने पर-असरार किया जिसके नतीजे में शेख़ फेरोज़ वहां से अचानक ग़ायब हो गया। नौजवानों की तरफ से शिकायत किए जाने पर टास्क फ़ोर्स और गोपालापुरम पुलिस ने एक मुशतर्का कार्रवाई में उसे गिरफ़्तार कर लिया।

Top Stories