रेलवे में 9.73 लाख करोड़ इन्वेस्टमेंट करने की चल रही तैयारी, मिलेंगी 10 लाख नौकरियां : रेल मंत्री

रेलवे में 9.73 लाख करोड़ इन्वेस्टमेंट करने की चल रही तैयारी, मिलेंगी 10 लाख नौकरियां : रेल मंत्री
Click for full image

मुंबई. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने रविवार को एक प्रोग्राम में कहा कि, सरकार लोगों को सुरक्षित और आरामदेह सफर कराना चाहती है। इसलिए रेलवे अगले पांच साल में 150 अरब डॉलर (9.73 लाख करोड़ रुपए) से ज्यादा के इन्वेस्टमेंट की योजना तैयार कर रही है। इस इन्वेस्टमेंट से
10 लाख नौकरियां लाई जा सकती हैं, और इससे सरकार की सोच को भी मजबूती मिलेगी।

”रेलवे मिनिस्ट्री ट्रैक के इलेक्ट्रीफिकेशन को 4 साल में पूरा करना चाहती है, जबकि पहले इसे 10 साल में पूरा करने की योजना थी। फुल इलेक्ट्रीफिकेशन के बाद फ्यूल बिल में सालाना करीब 10 हजार करोड़ रुपए की बचत हो सकती है। इससे घाटे में चल रही रेलवे को लागत में करीब 30% कमी लाने में मदद मिलेगी।”

पिछले कुछ महीनों में डिरेलमेंट्स को लेकर रेलवे की काफी आलोचना हुई थी। इसका जिक्र करते हुए गोयल ने 5 अक्टूबर को कहा था, ”हमारे लिए पैसेंजर सेफ्टी सबसे अहम है। रेलवे ट्रैक्स के रखरखाव और मॉर्डनाइजेशन के लिए जल्द ही ग्लोबल टेंडर्स मंगाएंगे।”

”पैसेंजर सेफ्टी हमारे लिए सबसे ज्यादा जरूरी है और इसके लिए फंड की लिमिट तय नहीं की गई है। हम इकोसिस्टम के जरिए एक साल में 10 लाख नौकरियां ला सकते हैं।

रेल मंत्री ने कहा था कि हो सकता है रेलवे खुद सीधे तौर पर नौकरियां ना दे पाए लेकिन इससे जुड़े इकोसिस्टम के जरिए 12 महीनों में एक लाख जॉब के मौके बनाए जा सकते हैं। सरकार सेफ्टी और मेंटेनेंस प्रोग्राम पर एग्रेसिव तरीके से काम कर रही है और इससे ही 2 लाख नौकरियां मिल सकती हैं।

उन्होंने कहा कि भारत में इन्वेस्टमेंट्स की बहुत गुंजाइश है लेकिन इसके लिए माइंडसेट बदलने की जरूरत है। तभी इस देश को बदला जा सकेगा। कोल और पावर सेक्टर में ये किया जा चुका है और अब बारी रेलवे की है।

Top Stories