Monday , December 11 2017

रेल बजट: अवाम को झूटे ख़ाब दिखाए जा रहे हैं

नए रेल बजट को तकरीबन तमाम सियासी पार्टियों की जानिब से शदीद तन्क़ीद का सामना है। एन सी पी क़ाइद तारिक़ अनवर ने रेलवे बजट की मुज़म्मत करते हुए कहा कि इससे अवाम को दरकार सहूलयात की पूरी नहीं हुई जबकि सी पी आई लीडर अतुल रंजन ने कहा कि रेल ब

नए रेल बजट को तकरीबन तमाम सियासी पार्टियों की जानिब से शदीद तन्क़ीद का सामना है। एन सी पी क़ाइद तारिक़ अनवर ने रेलवे बजट की मुज़म्मत करते हुए कहा कि इससे अवाम को दरकार सहूलयात की पूरी नहीं हुई जबकि सी पी आई लीडर अतुल रंजन ने कहा कि रेल बजट ने आम आदमी के लिए वही काम किया जो बंदूक़ से निकलने वाली गोली करती है।

उन्होंने कहा कि होना तो ये चाहिए था कि वज़ीर-ए-आज़म नरेंद्र मोदी ने जो वाअदे किए थे रेल बजट के ज़रिया उनकी पुर्ती की जानी चाहिए थी। दूसरी तरफ़ समाजवादी पार्टी लीडर राजिंदर चौधरी ने कहा कि बी जे पी की पालिसियां कभी भी अवाम के हक़ में नहीं होसकतीं। उन्होंने कहा कि हर एक ने बजट का मांग‌ किया है लेकिन इस में कहीं भी अवाम के लिए कोई राहत मौजूद नहीं है।

बी जे पी की पालिसियां कभी अवाम दोस्त नहीं रहीं बल्कि पार्टी ने हमेशा मालदार तबक़ा के तलवे चाटे। वो अवाम को सिर्फ़ झूटे ख़ाब दिखाने में माहिर है और बी जे पी जैसी पार्टी ही ऐसा जरातमंदाना क़दम उठा सकती थी। बरसर-ए-इक्तदार आते ही पार्टी ने सब से पहले इंधन की कीमतों में इज़ाफ़ा किया।

याद रहे कि कल वज़ीर रेलवेज़ सदानंद गौड़ा ने अपना पहला रेल बजट पेश किया जिस में उन्होंने हिंदुस्तानी रेलवेज़ को असरी नवीत से हमकनार करने कई इस्लाहाती इक़दामात किए।

TOPPOPULARRECENT