Sunday , January 21 2018

रेल हादसा : मुआवजे को कम बताते हुए बढ़ाने की मांग

रांची : भुरकुंडा स्टेशन के पास लपंगा बस्ती के लोगों ने सात घंटे तक रेल का चलना ठप कर दिया। मंगल दोपहर 1:30 बजे करीब 300 गाँव वालों ने अप और डाउन लाइन पर बैठ गए। इससे कई ट्रेनें जहां-तहां फंस गईं।
जाम लगा रहेे लोग रेल हादसे में मारे गए लोगों के अहले खाना के लिए एलान मुआवजे को कम बताते हुए इसे बढ़ाने की मांग कर रहे थे। गौरतलब है कि पीर की रात इसी जगह ट्रेन और बोलेरो में टक्कर हाे गई थी। टक्कर इतनी जबर्दस्त थी कि बोलेरो में सवार तमाम 14 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई थी।

जाम की वजह से गोमो-चोपन व बरवाडीह-गोमो पैसेंजर ट्रेन मंसूख कर दी गई। गरीब रथ, टाटा-जम्मूतवी एक्सप्रेस, झारखंड स्वर्ण जयंती, पलामू एक्सप्रेस व टाटा-बरकाकाना पैसेंजर घंटों लेट रहीं।

वजीरे आला रघुवर दास ने मरने वालों के अहले खाना को एक-एक लाख रुपए मुआवजा देने की एलान की है। उन्होंने डीसी और एसपी को तहक़ीक़ात कर रिपोर्ट सौंपने को कहा है कि किन वजहों से यह हादसा हुआ।

 

TOPPOPULARRECENT