Wednesday , December 13 2017

रैगिंग के बाद बिहार के वज़ीर के बेटे की हालत नाज़ुक

बिहार के इम्दाद बाहमी के वज़ीर जय कुमार सिंह का कहना है कि रैगिंग के बाद उनका बेटा दिल्ली के एक अस्पताल में ज़िंदगी और मौत के बीच झूल रहा है | सिंह ने कहा कि उनका बेटा आदर्श ग्वालियर के सिंधिया स्कूल का तालिब ए इल्म है |

बिहार के इम्दाद बाहमी के वज़ीर जय कुमार सिंह का कहना है कि रैगिंग के बाद उनका बेटा दिल्ली के एक अस्पताल में ज़िंदगी और मौत के बीच झूल रहा है |

सिंह ने कहा कि उनका बेटा आदर्श ग्वालियर के सिंधिया स्कूल का तालिब ए इल्म है |

उन्होंने बताया कि स्कूल के ओहदेदारो ने उनसे कहा कि उनके बेटे ने बुध की रात खुदकुशी करने की कोशिश की और उसकी हालत नाज़ुक है |
सिंह ने कहा, ‘‘ लेकिन, मैं इसकी तरदीद करता हूं कि मेरे बेटे ने खुदकुशी की कोशिश की |

अपोलो अस्पताल में उसका इलाज कर रहे डाक्टरों ने भी कहा है कि यह खुदकुशी करने की कोशिश का मामला नहीं बल्कि यह गला दबाकर कत्ल करने की कोशिश का मामला है |’’ उनका बेटा नौवीं क्लास का तालिब ए इल्म है और उसे दिल्ली ले जाया गया जहां उसे अपोलो अस्पताल में शरीक कराया गया | वज़ीर अपने फरज़ंद के पास हैं |

उन्होंने कहा कि उनके बेटे ने अपनी मां से पहले शिकायत की थी कि कुछ सीनीयर लड़के उसे परेशान कर रहे हैं. लेकिन हमने यह नहीं सोचा था कि मामला इतना संगीन है |

यह पूछे जाने पर कि क्या उन्होंने इस वाकिया की पुलिस में शिकायत की है, सिंह ने कहा, ‘‘ अभी हम बच्चे की जान बचाने में लगे हुए हैं |लेकिन हम यकीनी तौर से यह मामला स्कूल मैनेजमेंट के साथ उठाएंगे | ’’

TOPPOPULARRECENT