Friday , August 17 2018

रैली में हथियार लाने पर BJP महिला विंग की अध्यक्ष पर केस दर्ज़

भाजपा महिला विंग की पश्चिम बंगाल यूनिट की अध्यक्ष लॉकेट चटर्जी के खिलाफ सोमवार को एक मामला दर्ज किया गया. उनके खिलाफ रविवार को राज्य के बीरभूम जिले में सशस्त्र रामनवमी जुलूस में कथित तौर पर हिस्सा लेने के लिये मामला दर्ज किया गया है.

पुलिस के अनुसार कथित तौर पर शस्त्र लेकर रामनवमी जुलूस में हिस्सा लेने के लिये प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष के वीडियो फुटेज की भी जांच की जा रही है. बीरभूम के पुलिस अधीक्षक एन सुधीर कुमार ने बताया, ‘‘ लॉकेट चटर्जी के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया है, इसमें शस्त्र के साथ रैली में हिस्सा लेने के लिये गैर जमानती धाराओं के तहत भी मामला दर्ज किया गया है.’’

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बैनर्जी ने आज पुलिस को निर्देश दिया कि वह उन लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे जो रविवार को राज्य में रामनवमी पर जुलूस के दौरान तलवार और हथियार लेकर चल रहे थे उन्होंने किसी को भी नहीं बख्शने की बात कही.

ममता ने पैलान में एक सभा में कहा, ‘‘ मैं डीजीपी को निर्देश दे रही हूं कि वे सभी पुलिस अधीक्षकों से कड़ी कार्रवाई करने और चाहे जो कोई भी हो उसे नहीं बख्शने को कहें. कानून अपना काम करेगा. मैं इसे बर्दाश्त नहीं करूंगी.’’उन्होंने कहा कि अगर पुलिस कार्रवाई करने में विफल रहती है तो उसके खिलाफ कदम उठाए जाएंगे.

रामनवमी जुलूस के दौरान रविवार को तलवार और हथियार लेकर चलने वालों को उन्होंने‘ गुंडा’ बताया. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष के खड़गपुर में रामनवमी जुलूस में कथित तौर पर तलवार लेकर चलने के बारे में मीडिया में आई खबर का ज़िक्र करते हुए एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि वे जुलूस के वीडियो फुटेज की जांच कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि अगर खबर में कही गई बातें सही पाई जाती हैं तो घोष के खिलाफ गैर जमानती धाराओं के तहत मामला दर्ज किया जाएगा.

पुरुलिया में रामनवमी पर जुलूस के दौरान दो समूहों के बीच झड़प में एक व्यक्ति की मौत हो गई और पांच पुलिसकर्मी घायल हो गए. पुलिस ने बताया कि भाजपा समर्थकों ने पश्चिम बंगाल में रविवार को कई जगहों पर सरकारी प्रतिबंध की अनदेखी करते हुए सशस्त्र रैली निकाली.

तृणमूल कांग्रेस के नेताओं ने आरोप लगाया कि रविवार को पुरुलिया में जुलूस में बच्चे भी तलवार लेकर घूमते दिखाई पड़े. घोष ने कहा कि उन्हें रामनवमी जुलूस में हथियार लेकर चलने पर किसी प्रतिबंध के बारे में कोई जानकारी नहीं थी. उन्होंने कहा कि रामनवमी के दिन‘ शस्त्र पूजा’ करना वर्षों पुरानी हिंदू परंपरा है.

भाजपा और तृणमूल कांग्रेस ने राज्य के विभिन्न हिस्सों में कल रामनवमी के मौके पर जुलूस निकाला. भाजपा ने इन रैलियों को बंगाल में हिंदुओं को एकजुट करने की दिशा में पहला कदम बताया था.

TOPPOPULARRECENT