रोजा रख और नमाज पढ़कर शुरू करते हैं ‘मोहम्मद शेख’ हिन्दू देवता गणेश की मूर्ति बनाना

रोजा रख और नमाज पढ़कर शुरू करते हैं ‘मोहम्मद शेख’ हिन्दू देवता गणेश की मूर्ति बनाना

काम ही खुदा की इबादत है की सच्ची उदारहण सामने लाकर रखी है महाराष्ट्र के भाइंदर के रहने वाले एक मुस्लिम लड़के मोहम्मद शेख ने जोकि एक कलाकार है और मिटटी की मूर्तियां बनाते हैं। शेख बताते हैं कि इस काम में उनका रुझान बचपन से ही था और काफी सालों से वह ये काम सीख रहे थे और अब उन्होंने अपनी एक दूकान खोल ली है यहाँ वे हिन्दू देवताओं की मूर्तियां बनाकर बेचते हैं।
Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करियेj

शेख ने बताया कि रमजान के महीने में वह रोज रखकर और नमाज पढ़कर हिन्दू देवता गणेश की मूर्ति बनाना शुरू करता है।

शेख गणेश की तरह तरह की मुद्राओं वाली मूर्तियां बनाते है और आर्डर पर इको-फ्रेंडली मूर्तियां भी बनते हैं। शेख का कहना है कि उनके कुछ मुस्लिम दोस्तों ने रमजान के महीने में गणेश की मूर्ति बनाने को गलत बताया लेकिन जब उन्होंने अपने दोस्तों को समझाया कि भगवान् एक ही हैं बस धर्मों के नाम पर उन्हें बाँट दिया गया है तो वह समज गए। एक बार का किस्सा बताते हुए शेख ने कहा कि एक हिन्दू आदमी ने उनसे गणेश की मूर्ति खरीदने से इंकार कर दिया था लेकिन फिर जब उसे समझाया तो वह मान गया और मूर्ति खरीद ली और आज भी वह आदमी उनका ग्राहक है। शेख की सोच है कि वह ये काम करके देश में आपसी भाईचारे को बनाकर रखना चाहते हैं जिससे उनकी आत्मा को ख़ुशी मिलती है और वह शान्ति का पैगाम देना चाहते हैं। 

Top Stories