Wednesday , December 13 2017

रोहिंग्या मुसलमानों का नरसंहार और सफाया नहीं हुआ- म्यांमार

संयुक्त राष्ट्र। म्यांमार के दूत ने सोमवार को कहा कि मुसलमानों का जातीय सफाया या नरसंहार नहीं हुआ है। उन्होंने कुछ देशों द्वारा रखाइन राज्य में हालात बयां करने के लिए इन शब्दों का इस्तेमाल करने पर कड़ी आपत्ति जताई।

संयुक्त राष्ट्र में म्यांमार के दूत हा डो सुआन ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के छह दिवसीय सत्र के अंतिम दिन जवाब देने के अधिकार का इस्तेमाल किया।

उन्होंने 193 सदस्य वाले विश्व निकाय में विभिन्न देशों के नेताओं के भाषणों में लगाए आरोपों को निराधार और गैर जिम्मेदाराना टिप्पणियां बताया। उन्होंने किसी देश का नाम नहीं लिया।

लेकिन म्यांमार छोड़कर भागने वाले 4,20,000 से अधिक रोहिंग्या मुसलमानों की दयनीय स्थिति की बात इस मंच से कई नेताओं ने उठाई थी।

बीते 25 अगस्त को रोहिंग्या विद्रोहियों ने सुरक्षा बलों पर हमला किया था जिसके बाद बहुसंख्यक बौद्धों ने सैन्य कार्रवाई और प्रतिहिंसा शुरू की थी जिसके चलते रोहिंग्या लोगों को वहां से भागना पड़ा

TOPPOPULARRECENT