Thursday , September 20 2018

रोहिंग्या मुसलमानों के साथ हिंसा पर चुप रहने वाली ‘आंग सान सू’ को अॉस्ट्रेलिया ने दिया गार्ड ऑफ ऑनर

म्यांमां नेता आंग सान सू ची का आधिकारिक यात्रा पर ऑस्ट्रेलिया की संसद में स्वागत किया गया। उन्हें सैन्य गॉर्ड ऑफ ऑनर से सम्मानित किया गया।

नोबेल पुरस्कार विजेता दक्षिणपूर्व एशियाई नेताओं के शिखर सम्मेलन में शिरकत करने सप्ताहांत में सिडनी पहुंची। ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मैलकम टर्नबुल आज कैनबरा में उनसे मुलाकात करेंगे, इस दौरान वह मानवाधिकार के मसले को उठायेंगे।

वहीं म्यामां में रोहिंग्या मुस्लिम अल्पसंख्यकों के साथ की गई ज्यादतियों पर चुप रहने के लिए सू ची की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आलोचना की जा रही है। उनके दौरे के खिलाफ लोग सिडनी की सड़कों पर उतर आए। रखाइन प्रांत में रोहिंग्या लोगों पर हो रहे अत्याचारों पर सू ची ने कुछ नहीं बोला है।

लोगों ने उन पर मानवता विरोधी अपराध में शामिल होने का आरोप लगाते हुए एक याचिका भी दायर करने का प्रयास किया। हालांकि एटॉर्नी जनरल द्वारा सू ची के खिलाफ दायर याचिका को मंजूरी देने से इंकार कर दिया।

बता दें कि पिछले साल शुरू हुई हिंसा के बाद बौद्ध वर्चस्व वाले म्यामां से करीब 7,00,000 रोहिंग्या शरणार्थी अपनी जान बचा बांग्लादेश पहुंचे हैं।

TOPPOPULARRECENT