Monday , December 11 2017

रोहिंग्या विद्रोही संगठन ARSA म्यांमार की सरकार से बातचीत करने के लिए हुआ तैयार

रखाइन।रोहिंग्या विद्रोही संगठन ARSA ने यह संकेत दिए हैं कि वह म्यांमार सरकार से शांति की पहल के लिए बातचीत करने को तैयार है। सोशल मीडिया पर इस संगठन ने एक बयान जरिए कहा है कि अगर शांति बहाल करने के लिए म्यांमार की सरकार कोई भी कदम उठाती है तो हम इसका स्वागत करेंगे। सरकार की शांति पहल पर हम अमल करते हुए बातचीत भी करेंगे।

मालूम हो कि इस संगठन को म्यांमार की सरकार आतंकी संगठन मानती हैं। इस संगठन पर आरोप है कि इसने ही रखाइन इलाके में सरकारी चौकियों पर हमले की है। म्यांमार की सरकार का मानना है कि इस हमले के बाद सेना की हिंसक कार्रवाई की थी।

इस हिंसक कार्रवाई में सैकड़ों रोहिंग्या मुसलमानों की जाने गयी और हजारों की संख्या में रोहिंग्या मुसलमानों को म्यांमार छोड़कर भागना पड़ा है।

म्यांमार की सेना द्वारा हिंसक कार्रवाई के बाद दुनिया ने जो रोहिंग्या मुसलमानों की तस्वीर देखी है, वो बहुत ही दर्दनाक है। इस हिंसक कार्रवाई की पुरी दुनिया में आलोचना हुई है।

संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव ने तो यहां तक कह दिया कि यह कार्रवाई रोहिंग्या मुसलमान की नस्ल को खत्म करने जैसा है।

TOPPOPULARRECENT