Friday , December 15 2017

लक्ष्मी की मूर्ति विसर्जन जुलूस में मारपीट, पथराव

फुलवारीशरीफ : फुलवारीशरीफ के इशोपुर में जुमेरात की देर रात लक्ष्मी की मूर्ति विसर्जन को लेकर दो गुटों में जम कर मारपीट व पथराव हुआ़ वाकिया के बाद दोनों तरफ से सैंकड़ों लोग आमने-सामने हो गये़। इत्तिला मिलते ही पहुंची फुलवारीशरीफ थाना की पुलिस को लोगों ने खदेड़ दिया़ हालत को बिगड़ता देख पटना जोन डीआइजी शालीन, डीएम प्रतिमा वर्मा, एसएसपी विकास वैभव, एसडीओ रेयाज व बीडीओ शमशीर मल्लिक समेत आधा दर्जन थानों की पुलिस को मौके पर बुला लिया गया। इसके बाद भी लोगों ने पथराव करके एक मोटरसाइकिल समेत कई गाड़ियों को नुक्सान पहुंचाया। हालांकि इन सबके दरमियान मूर्ति का विसर्जन हो गया।

पथराव में लक्ष्मी की मूर्ति को नुक्सान हो गयी। इतना ही नहीं फसादियों ने सड़क किनारे के दर्जनों मकानों व चाय-पान की दुकानों में पथराव कर सबको नुक्सान पहुंचाया। हालत को काबू में करने के लिए रैपिड एक्शन फ़ोर्स की टीम ने लाठीचार्ज कर फसादियों को खदेड़ दिया। इस दौरान हुए पथराव में तीन पुलिसवाले समेत कई लोग जख्मी हो गये। आयनी शाहेदीन के मुताबिक मूर्ति विसर्जन में शामिल नशे में धुत कुछ नौजवानानों ने आपस में मारपीट शुरू कर दी। तनाज़ा इतना बढ़ गया की आसपास के समझाने आये लोगों से भी उलझ गये।

जानकारी के मुताबिक इशोपुर के राय चौक समेत दो जगहों के लक्ष्मी की मूर्ति विसर्जन को लेकर नौजवानों ने आपस में मारपीट कर ली़ इस तनाजे को पूरअमन करने के लिए पहले से जुलूस के साथ रही पुलिस ने समझाना चाहा, तो नशे में धुत नौजवानों ने पथराव करना शुरू कर दिया, जिससे वहां अफरा- तफरी मच गयी और दुकानों के शटर धड़ाधड़ गिरने लगे़।

इस दरमियान दोनों गुटों के लोग आमने -सामने हो गये। फसादियों के पथराव से दूसरे गुट की दुकानें भी नुक्सान पहुंचाया। जिससे मामले ने संजीदगी एख्तियार ले लिया़। इसी दरमियान पथराव से लक्ष्मी की मूर्ति को भी नुक्सान हो गयी। इशोपुर में भारी फसाद और पथराव की खबर से खानकाह मोड़ से लेकर चुनौती कुआं तक भगदड़ मच गयी। दोनों तरफ से जम कर पथराव होने लगा़ इस दौरान कई दुकानों और मकानों पर पथराव से हालत और बिगड़ती चली गयी।

 

 

TOPPOPULARRECENT