Thursday , December 14 2017

लखनऊ में व्यवसायी के कार्यालय से एक करोड़ के बंद हो चुके नोट बरामद

लखनऊ। उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने डायरेक्टरेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलीजेंस (डीआरआई) की टीम के साथ मिलकर लखनऊ के निरालानगर से एक व्यवसायी से बंद हो चुके चुके 500 और 1000 के करीब 99,80,000 रुपये के पुराने नोट बरामद किए हैं।

 

 

 

 

 

यूपी एसटीएफ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) अमित पाठक ने बताया कि टीम ने मुकेश जिंदल, एलडीआरसी कंसट्रक्शन के निरालानगर स्थित कार्यालय पर छापा मारकर तलाशी ली जहाँ मुकेश के चैम्बर से 99,80,000 रुपये के पुराने नोट बरामद हुए हैं।

 

 

 

 

पूछताछ पर मुकेश जिंदल ने बताया कि कार्यालय में मौजूद महिला निधि कौशिक पश्चिमी दिल्ली के उत्तमनगर की है, वह एक कंपनी की प्रतिनिधि है। कंपनी के वरिष्ठ अधिकारी आकाश से मुकेश जिंदल की 25 करोड़ या उससे अधिक की पुरानी करेंसी 40 प्रतिशत की दर से नई करेंसी में बदले जाने की बात हुई थी। इसके लिए मुकेश जिंदल को 2 प्रतिशत राशि मिलती।

 

 

 

 

निधि ने बताया कि आकाश नामक व्यक्ति अलग-अलग शहरों में पार्टियों से मिलने के लिए उसे भेजता था। निधि ने बताया कि नोट बदलने की शर्ते इतनी कठिन होती थीं कि कोई पार्टी उसे पूरा नहीं कर पाती थी और पूर्व में जमा की गई 2 से 5 लाख तक की राशि आकाश जब्त कर लेता था।

 

 

 

 

निधि ने पूछताछ में बताया कि वह धोखाधड़ी के इस धंधे के सिलसिले में जोधपुर, अहमदाबाद, रायपुर, अमृतसर, सूरत, पुणे, मुरादाबाद, जयपुर सहित बहुत से शहरों में जा चुकी है। वह तीसरी बार लखनऊ आई है।

TOPPOPULARRECENT