लगता है अभी दलित विरोधी मानसिकता से उबर नहीं पाई है स्मृति ईरानी: अशोक चौधरी

लगता है अभी दलित विरोधी मानसिकता से उबर नहीं पाई है स्मृति ईरानी: अशोक चौधरी
Click for full image

नई दिल्ली: सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर एचआरडी मिनिस्टर स्मृति ईरानी और बिहार के शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी के बीच ‘डियर’ शब्द के इस्तेमाल को लेकर जंग छिड़ गई।  अशोक चौधरी ने अपने ट्वीट में लिखा- ‘डियर स्मृति ईरानी जी, हमें नई एजुकेशन पॉलिसी कब मिलेगी? आपके कैलेंडर में साल 2015 कब खत्म होगा?’ स्मृति ईरानी ने अशोक चौधरी के इस ट्वीट पर सवाल उठाया और कहा, ‘महिलाओं को ‘डियर’ कहकर कब से संबोधित करने लगे अशोक जी?’ उनके इस सवाल से हैरान हुए अशोक चौधरी ने जवाब देते हुए कहा कि उन्होंने इस शब्द को अपमान नहीं सम्मान के तौर पर  इस्तेमाल किया और प्रोफशनल बातचीत की शुरुआत ‘डियर’ शब्द से ही होती है।  उन्होंने कहा, ‘स्मृति जी, मुद्दे को गोल-गोल घुमाने से अच्छा है कभी सही जवाब भी दे दिया करिए या फिर उन्होंने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरह झूठे वादे करने की कला सीख ली है।
अशोक चौधरी ने यह भी दावा किया कि 40 दिन पहले स्मृति ने खुद भी डियर शब्द का प्रयोग किया था। चौधरी ने कहा, ‘मैं कांग्रेस का सिपाही हूं और किसी भी महिला का अनादर नहीं कर सकता।   वो महिला हैं, देश की शिक्षा मंत्री हैं, उनको अगर ठेस पंहुची है तो हम क्षमा मांगते हैं। लेकिन  ‘वो dear शब्द का इस्तेमाल करें तो ठीक लेकिन हम करें तो आपत्ति।  लगता है अभी दलित विरोधी मानसिकता से उबर नहीं पाई है स्मृति ईरानी।

Top Stories