Monday , May 28 2018

लगातार बारिश से उत्तर भारत बाढ़ की चपेट में, NDRF की टीम एलर्ट

नई दिल्ली । उत्तर भारत में लगातार हो रही भारी बारिश से कई राज्यों में बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं। उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्यप्रदेश, और राजस्थान इस समय भयंकर बाढ़ की चपेट में है। घाघरा और सोन सहित कई नदियां लबालब हो गई हैं। नतीजतन बिहार की राजधानी पटना, उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद, वाराणसी और बलिया सहित कई शहरों में बाढ़ का पानी फैलने लगा है। एनडीआरएफ के महानिदेशक ओपी सिंह ने बताया कि बिहार, मध्य प्रदेश और यूपी के बाढ़ प्रभावित इलाकों में एनडीआरएफ की टीमें मदद के लिए तैनात है और हम पूरी तरह मदद के लिए तैनात हैं।

आलम यह है कि गंगा के जलस्तर में एक मीटर और वृद्धि हुई तो पूरा पटना शहर जलमग्न हो जाएगा। नदियां यहां खतरे के निशान से ऊपरबिहार में गंगा सहित पांच नदियां पटना, भागलपुर, खगड़िया, कटिहार, सिवान, भोजपुर और बक्सर में खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। गंगा पटना जिले के दीघाहाट, गांधी घाट, हाथीदह, भागलपुर में कहलगांव, बक्सर में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। अन्य नदियों में सोन नदी भोजपुर के कोइलवर और पुनपुन नदी पटना के श्रीपालपुर में खतरे की सीमा रेखा को पार कर गई है।

सिवान में घाघरा, कटिहार के बालताड़ा और कुर्सेला में कोसी का कहर कायम है। पानी पटना शहर के गंगा अपार्टमेंट में सीवर पाइप के जरिए बाढ़ का पानी पहुंच गया। गंगा अपार्टमेंट अशोक राजपथ से लगते हुए गंगा तट पर स्थित है। अपार्टमेंट के 125 फ्लैट में करीब 500-600 लोग रहते हैं। जिले की 25 पंचायतों के 50 हजार लोग बाढ़ में फंसे हुए हैं।

TOPPOPULARRECENT