Saturday , December 16 2017

लहरों के बहाव में शिद्दत, ब्लैक बॉक्स का हुसूल मुश्किल

गोताख़ोरों ने आज बहीरा जावा की तेज़ लहरों की परवाह ना करते हुए एयर एशिया के तैयारे के पिछले हिस्सा पर पहुंचने की पूरी कोशिश की जो आज से ग्यारह रोज़ क़ब्ल हादिसा का शिकार होकर समुंद्र बुर्द हो चुका है।

गोताख़ोरों ने आज बहीरा जावा की तेज़ लहरों की परवाह ना करते हुए एयर एशिया के तैयारे के पिछले हिस्सा पर पहुंचने की पूरी कोशिश की जो आज से ग्यारह रोज़ क़ब्ल हादिसा का शिकार होकर समुंद्र बुर्द हो चुका है।

लहरों में शिद्दत का अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है कि माहिर गोताख़ोर भी आगे बढ़ने से क़ासिर हैं। हालाँकि तैयारा की दुम (पिछला हिस्सा) का पता लग चुका है जहां ब्लैक बॉक्स मिलने के पूरे इमकानात हैं।

जबकि ख़राब मौसम और समुंद्रों में उठने वाली तेज़ लहरों ने ब्लैक बॉक्स की तलाश को मज़ीद दुशवारकुन बना दिया है जिस में फ़्लाईट डाटा मौजूद है जो हादिसा के वक़्त पाइलेट्स की आख़िरी बात चीत के ज़रीए हादिसा की अहम वजूहात पर रौशनी डालेगा।

QZ8501 तैयारा 162 मसाफ़िरीन के साथ सराबया से सिंगापुर के लिए रवाना हुआ था लेकिन वो अपनी मंज़िले मक़्सूद पर नहीं पहुंच सका।

TOPPOPULARRECENT