Sunday , December 17 2017

लालू कर रहे जातिवाद का नंगा नाच : सुशील मोदी

 

पटना : साबिक़ नायब वजीरे आला सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि एसेम्बली इंतिख़ाब 2015 में लालू प्रसाद जातिवाद का नंगा नाच कर रहे हैं। हुकूमत के लिए समाज को बांटने और जहर फैलाने के नापाक मंसूबों को नेस्तनाबूद कर बिहार की अवाम तरक़्क़ी के लिए वोट देगी। इस बार बैकवर्ड-फॉरवर्ड की लड़ाई नहीं बल्कि तरक़्क़ी की लड़ाई है। मुल्क के दीगर डेवलोप रियासतों की लाइन में बिहार को शुमार कराने की लड़ाई है। मोदी ने कहा कि लालू यादव और नीतीश कुमार हताशा में अगड़े-पिछड़े और रिज़र्वेशन के मुद्दे को हवा देने की कोशिश कर रहे हैं। क्या यह सच नहीं है कि कांग्रेस और लालू प्रसाद ने ही बिहार में 17 साल तक पंचायत इंतिखाब नहीं होने दिया और जब 2003 में पंचायत इंतिख़ाब हुए भी, तब कानूनी निज़ाम के बावजूद दलितों-पिछड़ों को रिजर्वेशन नहीं दिया? दलितों-पिछड़ों को वोट बैंक बना कर रखने के लिए कभी उन्हें इतनी ताकत नहीं दी कि वे रिजर्वेशन का पूरा फायदा उठा सके। लालू यादव के राज में ही दलितों-पिछड़ों पर सबसे ज़्यादा जुल्म हुए।

TOPPOPULARRECENT