Saturday , January 20 2018

लालू ने पार्टी लीडरों को दी नसीहत, बिना सोचे-समझे बयान न दें

पटना : आरजेडी के सदर लालू प्रसाद यादव ने बिहार में कानून-निज़ाम को लेकर अज़ीम इत्तिहाद के लीडरों के बेतुके बयानों को ज्यादा तवज्जो नहीं देने का मीडिया से दरख्वास्त करते हुए अपने लीडरो को बिना सोचे समझे बयान नहीं देने की नसीहत दी। यादव ने कहा कि कुछ लोग खबरों में बने रहने के लिए बेतुके बयान देते रहते हैं जिन्हें तवज्जो देने की जरुरत नहीं है। उन्होंने पार्टी लीडरों को नसीहत दी कि वे बिना सोचे-समझे बयान न दें और अगर कोई बात उन्हें समझ में नहीं आती है तो वे चुप रहें और घर पर बैठे। आरजेडी सदर ने कहा कि अज़ीम इत्तिहाद के तर्जुमान समाचार चैनलों में टीआरपी बढ़ाने के लिए फिजूल की बातें नहीं करें। उन्होंने कहा कि बिहार में अपार अवामी रुझान से बनी अज़ीम इत्तिहाद की हुकूमत ने मजबूती से काम करने का बीड़ा उठाया है। अवामी ख्वाब को पूरा करने के लिए हुकूमत नए-नए प्रोग्राम बना रही है और तमाम वज़ीर बिहार को आगे ले जाने के लिए जोरशोर से लगे हुए हैं ।

दूसरी तरफ यादव की नसीहत का राजद नायब सदर डॉ. रघुवंश प्रसाद सिंह पर कोई असर पड़ता नहीं दिख रहा है। डॉ. सिंह ने फिर कहा कि वजीरे आला ही हुकूमत की कियादत कर रहे हैं इसलिए कानून निज़ाम को चुस्त-दुरूस्त रखने की जिम्मेवारी भी उन्हीं की है। कानून-निज़ाम में सुधार के लिए उन्हें सख्त निगरानी रखनी चाहिए। उन्होंने कहा कि रियासत में कानून-निज़ाम को लेकर तमाम फिक्रमंद हैं और हुकूमत को इस पर तवज्जो देना होगा।

 

TOPPOPULARRECENT