Saturday , December 16 2017

लालू प्रसाद अगर जानते तो मोदी का फ़ोन ना उठाते

पटना, 8 मई: (एजेंसी) बिहार के नायब वज़ीर ए आला और बीजेपी के सीनियर लीडर सुशील कुमार मोदी ने दावा किया है कि एक हादिसा में ज़ख़्मी हुए आरजेडी सरबराह लालू प्रसाद यादव ने उनका फोन समझकर गुजरात के वज़ीर ए आला नरेंद्र मोदी का फोन उठा लिया था।

पटना, 8 मई: (एजेंसी) बिहार के नायब वज़ीर ए आला और बीजेपी के सीनियर लीडर सुशील कुमार मोदी ने दावा किया है कि एक हादिसा में ज़ख़्मी हुए आरजेडी सरबराह लालू प्रसाद यादव ने उनका फोन समझकर गुजरात के वज़ीर ए आला नरेंद्र मोदी का फोन उठा लिया था।

अगर उन्हें मालूम होता कि यह फोन गुजरात से है, तो वह फोन नहीं उठाते। सुशिल कुमार मोदी ने कहा कि अगर उन्हें पहले से पता होता कि उनके सेहत के बारे में मालूमात हासिल करने के लिए नरेंद्र मोदी ने फोन किया है, तो वह फोन पर बात नहीं करते।

उन्होंने समझा कि वह कॉल मैंने किया है न कि दूसरे मोदी ने। मैंने हफ्ते के दिन उनसे बात की और उनकी सेहत के बारे में पूछा।

उन्होंने कहा कि अपोजिशन पार्टी के लीडर को खुशी के मौके पर बधाई देना या ताज़ियत इज़हार करना तर्ज़ ए अमल में है और वह इसे अपना फर्ज़ समझते हैं।

क्योंकि 70 के दशक में वह पटना यूनिवर्सिटी तालिब ए इल्म यूनियन ( छात्र संघ) में प्रसाद की टीम में थे। हालांकि बाद में वह दोनों अलैहदा हो गए थे। जुमे की रात को वैशाली जिले के राघोपुर में लालू प्रसाद यादव एक हादिसा में ज़ख्मी हो गए थे।

TOPPOPULARRECENT